Friday, December 06, 2019 09:57 PM

सरकाघाट में वृद्धा से क्रूरता : हाई कोर्ट ने मांगी फ्रेश स्टेटस रिपोर्ट

शिमला - देव आस्था के नाम पर मंडी जिला की गाहर पंचायत में वृद्ध महिला को डायन बताकर मुंह पर कालिख पोतकर गांव में घुमाने के मामले में हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से छह सप्ताह में ताजा स्टेटस रिपोर्ट तलब की है। मुख्य न्यायाधीश एल नारायण स्वामी और न्यायाधीश ज्योत्सना रेवाल दुआ की खंडपीठ ने मीडिया में आई खबरों पर संज्ञान लिया था। मामले की आगामी सुनवाई जनवरी के पहले सप्ताह में निर्धारित की गई है। खबरों के अनुसार मंडा जिले के सरकाघाट की गाहर पंचायत में वृद्ध महिला को डायन बताकर मुंह पर कालिख पोतकर गांव में घुमाने के मामले में पुलिस ने अब तक 24 लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों पर अभी तक धारा 147, 149,  452, 435, 355 और 427 लगाई गई हैं। पुलिस की कार्रवाई पर देवता के कार-कारिंदे और अनुयायी भड़क गए थे। इस पर उन्होंने ऐलान कर दिया था कि वे भारी जनसमूह के साथ देवता के रथ को सरकाघाट थाने ले जाएंगे और पुलिस से अपने गूरों और अन्य आरोपियों को छुड़ा लेंगे। हंगामे की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने भी धारा 144 लगाने की तैयारी कर ली थी। जब लोगों को इस बात का पता चला तो उन्होंने सरकाघाट आने का विचार बदल दिया और कहा कि देवता ने वहां जाने से इनकार कर दिया था।