Sunday, November 17, 2019 03:32 PM

सरकारी गाड़ी में कैश का जवाब दे सरकार

धर्मशाला     - अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्य एवं पंजाब की प्रभारी आशा कुमारी ने बुधवार को धर्मशाला में प्रदेश सरकार पर बड़ा हमला बोला। आशा ने कहा कि सरकारी गाड़ी से कैश चोरी मामले में  सरकार जनता को स्थिति स्पष्ट करे। जनता यह भी जानना चाहती है कि जयराम सरकार ने सत्ता में आने के बाद धर्मशाला में चल रही स्मार्ट सिटी सहित विभिन्न परियोजनाओं के काम क्यों बंद कर दिए। उन्होंने जयराम सरकार पर कांगड़ा-चंबा से भेदभाव करने के भी आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि कांगड़ा में चल रहे कार्यालयों को मंडी शिफ्ट किया जा रहा है।  धर्मशाला में प्रेस वार्ता के दौरान आशा कुमारी ने कहा कि  नगर निगम धर्मशाला की ओर से भेजे गए करीब 200 करोड़ से अधिक के प्रोजेक्ट सरकार ने बेवजह लटकाए हुए हैं। इतना ही नहीं, कांगड़ा में चल रही बड़ी एवं महत्त्वाकांक्षी योजनाओं को भी मंडी में पहले शुरू करने की होड़ मुख्यमंत्री दिखा रहे हैं। इस मौके पर पूर्व विस अध्यक्ष बृज विहारी लाल बुटेल, विधायक पवन काजल, आशीष वुटेल, विधायक राजेंद्र राणा, पूर्व विधायक संजय रतन, अजय महाजन, योग राज, केवल सिंह पठानिया, पुनीत मल्ली सहित अन्य वरिष्ठ कांगे्रस नेता उपस्थित रहे।

सरकार से कुछ भी नहीं हो पाया

हिमाचल सरकार से न धर्मशाला में केंद्रीय विश्वविद्यालय बना, न पठानकोट-मंडी फोरलेन बन पाया। ट्यूलिप गार्डन, रोप-वे और आईटी पार्क सहित एयरपोर्ट विस्तारीकरण के मुद्दे लंबित हैं। धर्मशाला की जनता इन मुद्दों पर सरकार से जबाब मांग रही है।  

हिमाचल को बिकने नहीं देगी कांग्रेस

इन्वेस्टर मीट के नाम पर हिमाचल को बचने के प्रयास किए, तो कांग्रेस ऐसा नहीं होना देगी। आशा कुमारी ने कहा कि इससे पहले एचपीटीडीसी के 16 होटलों को निजी हाथों में सौंपने की तैयारी चल रही थी। भाजपा में भू माफिया एक ऐसा खेल खेल रहा है कि प्रदेश की बेहतर प्रोपर्टी को बेचने की तैयारी की जा रही है।