Monday, September 16, 2019 07:32 AM

सलूणी में रोके मणिमहेश यात्री

जम्मू-कश्मीर के भद्रवाह से जन्माष्टमी पर पवित्र डल में डुबकी लगाने के लिए पहुंचे तीन सौ श्रद्धालुओं को प्रशासन ने किया अलर्ट

सलूणी -जम्मू-कश्मीर के भद्रवाह से जन्माष्टमी के पावन मौके पर पवित्र डल में डुबकी लगाने के लिए रवाना तीन सौ श्रद्धालुओं केे जत्थे को प्रशासनिक अलर्ट के बाद सोमवार को सलूणी में रोक लिया गया है। प्रशासिनक इजाजत के बाद ही इन श्रद्धालुआंें को आगामी पड़ाव के लिए रवाना किया जाएगा। हालांकि उपमंडलीय प्रशासन की इस कवायद पर श्रद्धालुओं ने एतराज जताया, लेकिन एसडीएम सलूणी विजय कुमार धीमान व डीएसपी सलूणी रामकरण राणा के समझाने- बुझाने के बाद यह आगामी सफर रवाना न होने को मान गए। उपमंडलीय प्रशासन की ओर से श्रद्धालुओं के रहने की व्यवस्था भी कर दी गई है, जबकि खान-पान का जिम्मा स्थानीय लोगों ने संभाल लिया है। जानकारी के अनुसार जिला में बारिश के बाद बिगड़े हालातों के बाद जिला प्रशासन ने श्रद्धालुओं से आगामी दो दिनों में हालात सामान्य न होने तक यात्रा पर न जाने का आह्वान किया है। जिला प्रशासन ने दो दिनों के लिए मणिमहेश यात्रा को स्थगित कर दिया है। इसी कड़ी में सोमवार को भद्रवाह से मणिमहेश को रवाना हुए भद्रवाह के तीन सौ श्रद्धालुओं के जत्थे के सलूणी पहंुचते ही उपमंडलीय प्रशासन ने वास्तुस्थिति की जानकारी देते हुए आगामी सफर पर रवाना न होने की बात कही। इस पर श्रद्धालुओं ने आदेशों पर नाराजगी जताई। इसी बीच एसडीएम व डीएसपी सलूणी मौके पर पहंुच गए। उन्होंने श्रद्धालुओं के जत्थे को खराब मौसम का हवाला देते हुए आगामी सफर पर न जाने की बात कही। उन्होंने बताया कि बारिश के कारण दरके पहाड़ों और नालों के उफान पर आने से सफर जोखिम भरा हो गया है। इसके चलते ही दो दिनों तक मणिमहेश यात्रा पर न जाने का आह्वान किया जा रहा है।