Tuesday, June 02, 2020 11:52 AM

सहकारी सभाओं के सचिव-विक्रेता नवाजे

सहकार भारती के पदाधिकारियों ने लोगों तक राशन पहुंचाने पर किया सम्मानित

ऊना-सहायक पंजीयक सहकारी सभाएं ऊना के हाल में सहकार भारती के पदाधिकारियों द्वारा सहकारी सभाओं के सचिव एवं विक्रेताओं सहित जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक के अधिकारियों को सम्मानित किया गया। इस मौके पर हिमाचल प्रदेश के राज्य सदस्य पंकज सहोड़ एवं जिला परिषद रायपुर सहोड़ा ने मुख्य रूप से शिरकत की। वहीं राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सहकार भारती एवं उपाध्यक्ष सहकार भारती हिमाचल संतोष सैणी विशेष रूप से मौजूद रही। जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से खाद्य पूर्ति विभाग से पड सप्लाई आफिसर राजीव शर्मा सहित अन्य अधिकारियों ने भी उपस्थिति दर्ज कराई। जिला परिषद पंकज सहोड़ ने बताया कि कोरोना संकट की घड़ी में कोविड-19 की महामारी में भारत सरकार व राज्य सरकार द्वारा अनुदान पर दिए जाने वाले राशन को लोगों तक घर-घर पहुंचाने वाले डिपो होल्डर व सहकारी सभाओं के सचिवों का विशेष योगदान रहा। क्योंकि कुछ सहकारी सभाओं एवं डिपो होल्डर द्वारा इस महामारी में अपनी जेब खर्च से कर भी राशन को लोगों के घर तक पहुंचाया गया है। ये लोग भी अन्य कोरोना योद्धाओं की तरह महामारी में ईमानदारी से सेवाएं देते रहे। इसमें विभाग खाद्य आपूर्ति विभाग एवं जिला नियंत्रक व जिला अधिकारी, निरीक्षक, लोगों, सहकारी सभाएं का भी अहम रोल रहा। सहकार भारती के माध्यम से सरकार से मांग की है कि महामारी से लड़ने वाले डिपो होल्डर, सहकारी सभाओं सचिवों को भी कोरोना योद्धाओं में शामिल किया जाए। वहीं इस संकट काल में दुर्घटना होने पर 50 लाख रुपए के बीमा योजना के तहत लाने का प्रावधान हो। सहोड़ ने कहा कि सहकार भारती के माध्यम से जिला के सभी खंडों में कोविड-19 के समय कार्य करने वाले लोगों के आगे भी सम्मानित किया जाएगा। संतोष सैणी ने भी इन योद्धाओं को सरकार से बीमा के तहत लाने की मांग पर सहमति जताई। इस मौके पर सहकार भारती विभाग की ओर से पंकज सहोड़, संतोष सैणी, डीओ रतन बेदी, अधीक्षक मनमोहन सिंह, खाद्य पूर्ति विभाग से फूड सप्लाई ऑफिसर राजीव शर्मा, निरीक्षक दीपक शर्मा और सहकारी कर्मचारी यूनियन से मुकेश शर्मा, बृजलाल गौतम, रविंद्र शर्मा, प्रमोद राणा, बीरवल, राजकुमार, शशि पाल, बलवंत सैणी, सतीश कुमार, मोहित, विजय आंगरा, तिलक राज, राजेश, अरुण कुमार, महेंद्र पाल व अन्य डिपो होल्डर सहित सहकारी सभाओं के सचिव भी मौजूद रहे।