Monday, October 21, 2019 11:20 AM

सात साल का द्रोण; हुनर का खजाना

ड्रम बीटिंग, सिंथेसाइजर प्लेइंग संग एक्टिंग के दम पर कम उम्र में पाई बड़ी कामयाबी

नेरवा - वाह! छोटे उस्ताद, मान गए। जी हां, यह शब्द हर उस शख्स के मुंह से निकल पड़ते हैं, जो सात साल के नन्हें ड्रमर द्रोण से मिलता है। राजधानी के सेंट एडवर्ड स्कूल के तीसरी कक्षा के छात्र ने मात्र सात साल की उम्र में ही उन बुलंदियों को छू लिया है, जिन्हें छूने में लोगों की अकसर पूरी उम्र बीत जाती है। मूल रूप से चौपाल के बोधना गांव का यह ड्रमर मात्र पांच साल की उम्र से ड्रम बजा रहा है। इसके लिए द्रोण को बीते साल देश के सबसे बड़े पुरस्कार इंडियन आइकॉन अवार्ड से भी नवाजा जा चुका है। मई में द्रोण के नाम एक और उपलब्धि उस समय जुड़ गई, जब उसे ड्रम बीटिंग, कैसियो प्लेइंग और एक्टिंग के लिए इंडिया स्टार प्राउड-2019 से नवाजा गया। द्रोण रोहित ग्रोवर निर्देशित फिल्म गूगल में भी लीड रोल निभा चुका है। इसके आलावा यह नन्हा हुनरबाज प्रदूषण नियंत्रण और पर्यावरण संरक्षण के लिए गुजरात से चलने वाले तिरंगा कैंपेन से भी जुड़ा हुआ है। वह सनी शर्मा की राज सांग एल्बम में भी अभिनय कर नाम कमा चुका है। इन दिनों वह अन्य विधाओं के साथ-साथ गायन के साथ भी जुड़ चुका है। द्रोण के पिता धर्मेंद्र चंदेल ने बताया कि द्रोण इन दिनों अपनी ऑडियो और वीडियो एल्बम की तैयारी में लगा हुआ है। द्रोण के अनुसार वह बड़ा होकर बॉलीवुड स्टार या फिर प्रशासनिक अधिकारी बनना चाहता है। अपने सपने को साकार करने के लिए लगातार मेहनत कर रहा है।