साहिर लुधियानवी का किरदार निभाने के लिये बेताब हैं अभिषेक बच्चन

 बॉलीवुड के जूनियर बी अभिषेक बच्चन सिल्वर स्क्रीन पर दिवंगत गीतकार-शायर साहिर लुधियानवी का किरदार निभाने के लिये बेताब हैं।बॉलीवुड के जाने माने फिल्मकार संजय लीला भंसाली काफी समय से साहिर लुधियानवी और अमृता प्रीतम के जीवन पर फिल्म बनाने की तैयारी कर रहे हैं लेकिन बात नहीं बन पा रही है। फिल्म के लिये भंसाली ने अभिषेक बच्चन के साथ दो साल पहले मीटिंग भी की थी, लेकिन अब तक फिल्म फ्लोर पर नहीं जा सकी है। अभिषेक ने बताया, 'साहिर लुधियानवी की बायोपिक के बारे में करीब दो साल पहले संजय लीला भंसाली ने मुझसे बात जरूर की थी, लेकिन बाद में जाने क्या हुआ, उन्होंने मुझसे कोई बात नहीं की। शायद वह अपने दूसरे प्रोजेक्ट में बिजी हो गये थे। अब मैं जरूर बात करूंगा और पूछूंगा संजयजी से कि क्या हुआ साहिर वाली कहानी का। मुझे वह कहानी बहुत पसंद आई थी और मुझे उस फिल्म में जरूर काम करना है।”बताया जाता है कि भंसाली ने साहिर की बायोपिक के लिये दीपिका पादुकोण और प्रियंका चोपड़ा से भी बात की थी। उन्होंने दीपिका को अमृता प्रीतम का रोल ऑफर किया था।उल्लेखनीय है कि चालीस के दशक में साहिर और अमृता प्रीतम लाहौर के कॉलेज में एक साथ पढ़ते थे। कॉलेज के कार्यक्रमों में साहिर खुद की लिखी गजलों और नज्मों को पढ़कर सुनाया करते थे। उन दिनों अमृता प्रीतम उनकी गजलों और नज्मों की मुरीद हो गयी थी और उनसे प्यार करने लगी थी। कुछ समय बाद साहिर कॉलेज से निष्कासित कर दिये गये। अमृता के पिता को उनके और साहिर के रिश्ते पर एेतराज था क्योंकि साहिर मुस्लिम थे और अमृता सिख थी। एक वजह यह भी थी कि उन दिनों साहिर की माली हालत भी ठीक नहीं थी और इसके बाद उन दोनाें की प्रेम कहानी अधूरी रह गयी।

Related Stories: