सिर्फ मर्द ही होते हैं गंजे, औरतें क्यों नहीं

दोस्तों आपने अब तक असंख्य गंजे मर्दों को देखा होगा, हांलाकि कुछ महिलाएं भी गंजेपन का शिकार होती हैं लेकिन संख्या गिनी जा सकती है। सामान्यतया देखा जाए तो महिलाएं जल्दी गंजेपन की शिकार नहीं होती हैं। हां उनके बाल झड़ते जरूर हैं, लेकिन यह नौबत कभी नहीं आती कि उनके सिर की त्वचा दिखाई देने लगे। वहीं दूसरी तरफ  पुरुषों के बाल धीरे-धीरे झड़े अथवा तेजी से, इन दोनों ही परिस्थितयों में उनके सिर की त्वचा साफ  दिखने लगती है। पुरुषों में गंजापन सामान्य बात है। आप के मन में भी यह सवाल उठते होंगे कि आखिर ऐसा पुरुषों के साथ ही क्यों होता है और महिलाओं के साथ क्यों नहीं। आपको जानकारी के लिए बता दें कि गंजेपन का मूल कारण हार्मोंस में बदलाव है। शोधकर्ता की मानें तो यह बदलाव महिलाओं में भी देखने को मिलता है, लेकिन नॉर्वे की बर्गेन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के मुताबिक, गंजेपन के पीछे एक अलग तरह का हार्मोनल बदलाव होता है। शोध के मुताबिक, पुरुषों में गंजापन टेस्टोस्टेरॉन नाम के हार्मोन के चलते होता है, जबकि महिलाओं में यह हार्मोन नहीं पाया जाता है। महिलाओं में केवल पोषण की कमी के काण बाल झड़ने लग जाते हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक, कुछ एंजाइम्स टेस्टोस्टेरॉन को डिहाइड्रो टेस्टोस्टेरॉन में बदल देते हैं।

Related Stories: