Monday, February 17, 2020 06:43 AM

सुजानपुर बस स्टैंड के आए अच्छे दिन

दो महकमों की लड़ाई खत्म करने के लिए एसडीएम ने दिए पैमाइश करने के आदेश

सुजानपुर -दो विभागों की लड़ाई में अब तक पिछड़ता आया सुजानपुर बस स्टैंड शीघ्र ही इस समस्या से छुटकारा पाएगा। सुजानपुर एसडीएम ने वर्तमान बस स्टैंड जमीन की पैमाइश करने के निर्देश जारी कर दिए हैं। शीघ्र ही कौन से विभाग के नाम कितनी जमीन निकलती है। उसका पता चल पाएगा और फिर उसके बाद इसकी मरम्मत का कार्य अपने-अपने विभाग शुरू करेंगे। बताते चलें कि वर्तमान में सुजानपुर बस स्टैंड में यह पता लगाना मुश्किल है कि बस स्टैंड में गड्ढे हैं या फिर गड्ढों में बस स्टैंड है। हल्की बारिश बस स्टैंड को तालाब बना देती है, जिससे रोजाना दुर्घटनाएं दोपहिया वाहनों के स्किड होने की समस्या बनी रहती है। समस्या के निदान को लेकर जब प्रशासन से बात की जाती है तो हर बार यह सुनने को मिलता है कि बस स्टैंड नगर परिषद और लोक निर्माण विभाग दोनों के अधीन आता है। एक विभाग दूसरे विभाग पर काम करने आरोप लगाता है। आलम यह होता है दो विभागों की लड़ाई में बस स्टैंड पिस्ता चला जाता है और इस की दयनीय स्थिति पर कोई भी विभाग मरहम नहीं लगा पाया। समस्या को लेकर जब सुजानपुर प्रशासनिक अधिकारी एसडीएम शिल्पी बेकट्टा से बात की तो उन्होंने बताया सुजानपुर बस स्टैंड की समस्या उनके ध्यान में हैं। यह भी पता है कि इसकी भूमि को लेकर अकसर समस्या रहती है। सबसे पहले तहसीलदार सुजानपुर को इसकी भूमि पैमाइश करने के निर्देश दिए हैं कि कौन सी और कितनी भूमि किस किस विभाग के नाम है। उसके बाद इसकी मेंटेनेंस का कार्य किया जाएगा। दो सप्ताह के भीतर भूमि पैमाइश का कार्य पूरा होगा। उसके बाद नगर परिषद और लोक निर्माण विभाग को बस स्टैंड की भूमि के बारे में अवगत करवाया