Monday, September 23, 2019 01:53 AM

सुजानपुर बाजार में लावारिस पशुओं का कर्फ्यू

सुजानपुर -अगर आप घर से सुजानपुर बाजार या शहर की तरफ निकल रहे हैं, तो अपने साथ अपने बचाव के लिए कुछ न कुछ जरूर लेकर निकलें, क्योंकि शहर और सुजानपुर बाजार में घूम रहे लावारिस पशु कब आप पर हमला कर दें और आप दुर्घटना का शिकार हो जाएं कुछ कहा नहीं जा सकता है। आलम यह है कि सुजानपुर मुख्य बाजार में आजकल लावारिस सांड और पशु लोगों को भारी परेशानी में डाले हुए हैं। सुबह से शाम तक मुख्य बाजार में इन लावारिस पशुओं की आवाजाही लगातार चली रहती है। सबसे हैरानी की बात यह है कि यह लावारिस पशु विशेष रूप से सांड बाजार में खड़े होकर ट्रैफिक और लोगों की आवाजाही तक बंद करवा देते हैं। इस कारण इन लावारिस पशुओं ने सुजानपुर बाजार में कर्फ्यू जैसा माहौल बना दिया है। यह लावारिस सांड और लावारिस पशु कहां से आए हैं, कौन इनके मालिक हैं और कौन इन्हें यहां पहुंचा रहा है, रहस्य बना हुआ है। सुजानपुर शहर में अनेक लोग इस  लावारिस बैल और सांड के हमलों से अपनी जान गंवा बैठे हैं, लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि आज तक इस समस्या का हल नहीं हो पाया। माननीय उच्चतम न्यायालय एवं प्रदेश सरकार के आदेशों के बावजूद शहर में गोशाला की व्यवस्था नहीं हो पाई, जहां पर ऐसे जानवरों को रखा जा सके। वर्तमान में स्थिति भयंकर बनी हुई है, पर सबसे ज्यादा समस्या तब सामने आती है जब परिजन अपने नौनिहालों को स्कूल बस तक पहुंचाने के लिए निकलते हैं, तो ये लावारिस पशु उन्हें भारी परेशानी पहुंचाते हैं। स्थानीय लोगों ने सुजानपुर प्रशासन से लावारिस पशुओं के ऊपर लगाम लगाने और गोशाला में इन्हें रखने या फिर कहीं और भेजने की मांग की है, ताकि लोग और उनके बच्चे आजादी के साथ शहर में आवाजाही कर सकंे।  इस बारे नगर परिषद अधिकारी तहसीलदार अशोक पठानिया ने बताया कि गोशाला निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। उसके बाद लावारिस पशुओं की समस्या का हल हो जाएगा।