Wednesday, July 08, 2020 12:28 PM

सुनाली में पानी की नो टेंशन

हैंडपंप पर मोटर लगने से गांववासियों को 15 साल बाद मिली राहत

घुमारवीं -घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाली ग्राम पंचायत करलोटी के गांव सुनाली के निवासियों की पेयजल किल्लत अब पूर्ण रूप से समाप्त हो गई है। बताते चलें कि इस गांव में 15 से 20 परिवार लगभग 15 वर्षों से पेयजल किल्लत से जूझ रहे थे। इन परिवारों को मुंडखर पेयजल योजना से पेयजल आपूर्ति मुहैया होती थी लेकिन इन ग्रामवासियों का कहना था कि पानी की एक बूंद भी इन लोगों के नलों तक नहीं पहुंच पाती थी। स्थानीय ग्राम पंचायत के उपप्रधान सुरेश पटियाल ने बताया कि इन परिवारों के नल कई वर्षों से सूखे रहते थे। उसके बाद वर्ष 2003 में जन शक्ति विभाग के माध्यम से इन परिवारों के लिए एक हैंडपंप स्थापित करवाया गया था लेकिन, हैंडपंप से इन लोगों की दिक्कतें दूर नहीं हो पा रही थी। सुरेश पटियाल ने बताया कि इस समस्या को स्थानीय विधायक राजेंद्र गर्ग के समक्ष रखा गया। उन्होंने जल शक्ति विभाग के अधिकारियों से बैठक करके इस हैंडपंप में मोटर स्थापित करने का निर्णय लिया। उसके उपरांत जल शक्ति विभाग के माध्यम से इस हैंडपंप में मोटर स्थापित कर दी गई। उन्होंने बताया कि इस हैंडपंप में मोटर स्थापित हो जाने से इन लोगों की पेयजल समस्या अब दूर हो गई है। ग्राम पंचायत के उपप्रधान सुरेश पटियाल, बूथ अध्यक्ष शमशेर सिंह, ऊषा, रीता शर्मा, प्रवीण, अभी शर्मा, कैप्टन जीतराम, काकू, प्यार चंद, सीमा, सूरम चंद ने इस कार्य के लिए विधायक राजेंद्र गर्ग का धन्यवाद किया है। इन लोगों ने बताया कि इस हैंडपंप में मोटर स्थापित हो जाने से इन लोगों को एक बड़ी राहत मिली है। उन्होंने बताया कि ग्रामवासी गांव में पशु पालन भी करते हैं जिसके चलते लोगों को पानी की किल्लत से जूझना पड़ता था लेकिन अब यह समस्या दूर हो गई है।