Tuesday, October 15, 2019 09:26 AM

सोलन को मोहन मंदिर देंगे मोहन भागवत

संघ प्रमुख कल सुबह करेंगे मंदिर का उद्घाटन

सोलन - राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के राष्ट्रीय प्रमुख डा. मोहन राव भागवत सर संघचालक बनने के बाद पहली बार हिमाचल प्रदेश की वादियों में आएंगे। मोहन भागवत मोहन मंदिर का उद्घाटन करने 18 सितंबर को सोलन पहुंच रहे हैं। एसपीजी कमांडो के भी सोमवार देर सायं सोलन में डेरा डालने की सूचना है। शहर में सुरक्षा प्रबंध चाक-चौबंद किए जा रहे हैं। कश्मीर में धारा 370 व 35-ए हटने के बाद उनको पूर्व में मिली जेड प्लस सुरक्षा को और कड़ा कर दिया गया है। लिहाजा वह सोलन कैसे पहुंचेंगे, इसे गुप्त ही रखा गया है। गौर हो कि जय श्रीकृष्ण पंथ के मार्गदर्शन में सोलन में कृष्ण भगवान के भव्य मंदिर का निर्माण करवाया गया है। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत प्रातः 9ः30 बजे सोलन के मालरोड पर स्थित मंदिर में पहुंचेंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व कई अन्य मंत्री भी मोहन के दरबार में हाजिरी भरेंगे। बता दें कि मोहन भागवत वर्ष 2008 में शिमला में एक कार्यक्रम में भाग लेने आए थे, परंतु 2009 में सरसंघचालक बनने के बाद हिमाचल प्रदेश का यह उनका पहला व्यक्तिगत दौरा है। सोलन के श्रीकृष्ण वृद्धाश्रम ट्रस्ट के अध्यक्ष राजीव कोहली, सतीश साहनी, कमलेश, सतीश बंसल इत्यादि ने बताया कि संघ प्रमुख सोलन मंदिर में पहुंचते ही सर्व प्रथम श्रीकृष्ण भगवान की पूजा करेंगे। यह कार्यक्रम करीब तीन घंटे तक चलेगा। महाराष्ट्र से विशेष रूप से आए कारजिंकर बाबा व अन्य दो महात्मा तथा मुख्यमंत्री सीमित समयावधि के लिए कार्यक्रम में संबोधित करेंगे। सोलन के बाद दोपहर को मोहन भागवत डा. वाईएस परमार विश्वविद्यालय नौणी जाएंगे। वहां वह आरएसएस की एक विशेष व गोपनीय बैठक में शिरकत करेंगे।

20 मिनट का होगा अभिभाषण

संघ प्रमुख का 20 मिनट के लिए अभिभाषण होगा। उनके इस भाषण में पूरे विश्व व मीडिया की नजरें टिकी रहेंगी। वहीं, मोहन भागवत प्रदेश की राजनीति पर भी क्या मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को कुछ टिप्स देंगे या सिर्फ श्रीमद्भागवत गीता व श्रीकृष्ण के दर्शाए मार्गों पर ही भाषण केंद्रित करेंगे, यह अभी रहस्य बना हुआ है।