Thursday, July 16, 2020 06:23 PM

सोलन से 829 लोग झारखंड रवाना

कोविड-19 के चलते जिला प्रशासन ने कालका से विशेष श्रमिक रेलगाड़ी से भेजे घर

सोलन-कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत हरियाणा के कालका से सोमवार को हिमाचल के सोलन जिला से झारखंड राज्य के निवासियों को विशेष श्रमिक रेलगाड़ी के माध्यम से वापस उनके प्रदेश भेजा गया। अतिरिक्त उपायुक्त सोलन विवेक चंदेल की अगवाई में झारखंड के कुल 829 व्यक्तियों को कालका रेलवे स्टेशन से धनबाद के लिए रेलगाड़ी के द्वारा भेजा गया। उन्होंने कहा कि इन 829 व्यक्तियों में 780 व्यक्ति बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ क्षेत्र से, 28 व्यक्ति परवाणू से, 13 व्यक्ति सोलन से तथा आठ व्यक्ति कंडाघाट से धनबाद के लिए रवाना किए गए। उन्होंने कहा कि इन सभी यात्रियों को प्रदेश पथ परिवहन निगम की बसों द्वारा सोशल डिस्टेंसिग सहित अन्य नियमों की पालना करते हुए कालका पंहुचाया गया।   विवेक चंदेल ने कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत जिला प्रशासन यह सुनिश्चित बना रहा है कि लोग बिना किसी परेशानी एवं भय के अपने घर तक सुरक्षित पहुंचें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए सभी स्तरों पर व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि संकट के इस समय में जन-जन के सहयोग से समाज के सभी वर्गों की समस्याओं को विनम्रता के साथ समय पर हल करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने प्रदेश सरकार के निर्देशानुरूप आवागमन करने वाले व्यक्तियों के लिए व्यापक इंतजाम किए हैं।  अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि कालका से ही मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मऊ तथा 28 मई को फैजाबाद के लिए श्रमिक ट्रेन रवाना होगी। इन रेलगाडि़यों में जाने के लिए प्रदेश स्तर पर संबंधित नोडल अधिकरियों के माध्यम से पंजीकरण करवाया जा सकता है। उपमंडलाधिकारी सोलन रोहित राठौर, उपमण्ंलाधिकारी नालागढ़ प्रशांत देष्टा, सहायक आयुक्त परवाणू विक्रम नेगी, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी सुरेश सिंघा, हिमाचल प्रशासनिक सेवा के परिवीक्षाधीन अधिकारी संकल्प गौतम, जिला खनन अधिकारी कुलभूषण सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी इस अवसर पर उपस्थित रहे।