Saturday, January 25, 2020 11:32 PM

सोशल मीडिया कितना हार्मफुल

शिमला  - प्रदेश के बच्चों के लिए सोशल मीडिया कितना हार्मफुल है, इसके बारे में स्कूलों में बच्चों को जागरूक करना आवश्यक है। प्रदेश महिला आयोग ने इस बाबत प्रदेश सरकार को पत्र लिखा है, जिसमें कहा गया है कि स्कूली बच्चों को सोशल मीडिया के दुष्प्रभावों के बारे में बताया जाए। इसमें जल्द ही शिमला के स्कूलों से यह योजना शुरू की जा रही है, जिस पर शिक्षा विभाग में भी इस बाबात बैठक आयोजित की जाने वाली है। बच्चों को बताया जाने वाला है कि इस विषय को प्रदेश के स्कूलों में एक्स्ट्रा करीकुलम में जोड़ा जाने वाला है। वहीं, अब पांचवीं कक्षा के बाद स्कूलों में बेटियों क ो सेल्फ डिफेंस ट्रेनिंग करवाने के रास्ते भी खुलने लगे हैं, जिसकी पैरवी इस बार प्रदेश महिला आयोग ने फिर से प्रदेश सरकार से की है। प्रदेश महिला आयोग ने प्रदेश सरकार को पत्र लिखा है, जिसमें कहा गया है कि पांचवीं कक्षा के बाद बेटियों को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग करवाई जाए। जिसमें खास तौर पर स्कूल की अतिरिक्त गतिविधियों के साथ इसे जोड़ा जा सके। जानकारी के मुताबिक प्रदेश महिला आयोग की ओर से प्रदेश सरकार को पत्र लिखा गया है जिसमें बेटियों की सुरक्षा के मामले में गंभीरता जाहिर करते हुए आगामी कदम उठाने के लिए कहा गया है। प्रदेश महिला आयोग द्वारा यह भी साफ किया गया है कि प्रदेश के  सरकारी स्कूल ही नहीं बल्कि निजी स्कूल क ी बेटियों को भी एक्स्ट्रा करीकुलम में सोशल मीडिया के प्रति जागरूकता और बेटियों की सुरक्षा को लेकर इस गतिविधि को जोड़ा जा सके। हालांकि प्रदेश में बेटियों के साथ हुई घटना के बाद प्रदेश सरकार ने आत्म सुरक्षा को लेकर ये निर्देश दिए थे, लेकिन इसे कुछ स्कूलों द्वारा ही अमल में लाया गया था। इस पर महिला आयोग ने गंभीरता जाहिर की है।