Tuesday, November 19, 2019 03:53 AM

स्वारघाट में 108 में गूंजीं किलकारियां

नालागढ़ अस्पताल ले जाते समय रजवाहण की शकुंतला देवी ने बेटे को दिया जन्म, जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित

स्वारघाट -प्राथमिक  चिकित्सा केंद्र स्वारघाट की  आपातकालीन सेवा 108 एंबुलेंस उपमंडल स्वारघाट के साथ-साथ नालागढ़ उपमंडल की पंचायतों के लोगों खासकर गर्भवती महिलाओं के लिए वरदान साबित हो रही है। जानकारी के अनुसार रजवाहण गांव महिला शकुंतला देवी पत्नी संतोष कुमार गर्भवती थी। गुरुवार देर शाम करीब साढ़े चार बजे शकुंतला देवी की अचानक तबीयत खराब हो गई और उसे तेज प्रसव पीड़ा होने लगी। यह देख उसके परिजनों ने 108 नंबर पर फोन कर नालागढ़ अस्पताल जाने के लिए 108 वाहन की मांग की। 108 की तरफ  से पीएचसी स्वारघाट से 108 चालक कमलजीत व ईएमटी कमल ठाकुर एंबुलेंस वाहन सहित रजवाहण गांव पहुंचे और गर्भवती महिला को 108 वाहन में नालागढ़ अस्पताल ले जाने लगे। शकुंतला देवी को जब 108 वाहन के माध्यम से एफआरयू अस्पताल नालागढ़ ले जाया जा रहा था तो कुंडलू स्थान पर शकुंतला देवी को तेज प्रसव पीड़ा होने लगी। ईएमटी कमल ठाकुर व पायलट कमलजीत ने वाहन रोककर 108 वाहन  में ही छह बजकर 19 मिनट पर महिला की सफल डिलीवरी करवाई। महिला ने एक स्वस्थ लड़के को जन्म दिया है और  डिलीवरी के बाद जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित हैं। एहतियात के तौर पर महिला को नालागढ़ अस्पताल में दाखिल किया गया है। शकुंतला देवी का यह तीसरा  बच्चा है। इससे पहले शकुंतला देवी की दो बेटियां है। जब शकुंतला देवी के परिजनों को लड़का होने का पता चला तो उनकी  खुशी का ठिकाना न रहा। शकुंतला देवी के परिजनों ने सफल डिलीवरी करवाने के लिए एंबुलेंस कर्मियों का आभार व्यक्त किया और उनकी कार्य कुशलता की तारीफ की है।