Friday, October 18, 2019 12:01 PM

स्वास्थ्य विभाग ने भरे खाद्य वस्तुओं के सैंपल

गुणवत्ताहीन वस्तुओं की बिक्री पर रोक लगाने को छेड़ा अभियान, शहर की दुकानों में दी दबिश, मिलावटखोरों में मचा हड़कंप

चंबा -फेस्टिवल सीजन के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग ने मिलावटी व गुणवत्ताहीन वस्तुओं की बिक्री पर रोक लगाने के उद्देश्य से विशेष अभियान छेड़ दिया है। इसी कड़ी में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बुधवार को चंबा शहर व आसपास के क्षेत्रों में दुकानों पर दबिश देकर तीन खाद्य वस्तुओं के सैंपल एकत्रित किए। इन सैंपलों को सील बंद करके जांच हेतु कंडाघाट स्थित प्रयोगशाला में भेज दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने पर इनकी गुणवत्ता के बारे में पता चल पाएगा। जांच रिपोर्ट में सैंपलों के गुणवत्ताहीन पाए जाने पर संबंधित विक्रेताओं के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की इस कार्रवाई से मिलावटखोरों में हड़कंप मच गया है। जानकारी के अनुसार बुधवार को सहायक आयुक्त खाद्य सुरक्षा चंबा महेश कश्यप की अगवाई में खाद्य सुरक्षा अधिकारी दीपक आनंद व मधुबाला प्रशिक्षक की टीम ने चंबा बाजार सहित मुगला, हरदासपुरा व करियां आदि क्षेत्रों में खाद्य वस्तुओं की विभिन्न दुकानों में दबिश दी। इस दौरान टीम ने कई खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता जांची। इस अभियान के दौरान टीम ने संदेह होने पर वनस्पति घी, पतंजलि मैगी और अरहर की दाल के सैंपल भी लिए गए। उल्लेखनीय है कि फेस्टिवल सीजन के दौरान मिलावटी मिठाइयां व अन्य खाद्य वस्तुएं बेचने वाले सक्रिय हो जाते हैं। मुनाफा कमाने के चक्कर में वह लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने से भी नहीं चूकते। मिलावटी मिठाइयों व खाद्य पदार्थों की बिक्री की रोकथाम हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस वर्ष विशेष कार्य योजना तैयार की गई है। जिसके तहत विभागीय टीम लगातार औचक निरीक्षण को अंजाम देगी और नियमों की अवहेलना कर लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने वालों पर शिकंजा कसा जाएगा। उधर, सहायक आयुक्त खाद्य सुरक्षा चंबा महेश कश्यप ने बताया कि विशेष अभियान के बुधवार को कई दुकानों का निरीक्षण किया गया है। इस दौरान तीन खाद्य वस्तुओं के सैंपल भी एकत्रित किए गए हैं। उन्होंने मिठाई विक्रेताओं से भी अपील है कि वे मिठाइयों में रंग का इस्तेमाल न करें ताकि लोगों का स्वास्थ्य खराब न हो।