Wednesday, August 12, 2020 06:17 AM

हद है… ऊहल के पानी का 37 हजार रुपए बिल

मंडी - लगभग 90 करोड़ की लागत से तैयार हुई मंडी शहर की ऊहल बहाव परियोजना का विधिवत उद्घाटन तो नहीं हुआ, मगर इसकी सप्लाई से आने लगे पानी के बिलों ने लोगों का रंग उड़ाना शुरू कर दिया है। मंडी के वरिष्ठतम नागरिकों के एक तीन सदस्यीय परिवार को आईपीएच विभाग ने इस बार 37071 रुपए का बिल थमाया है। मंडी शहर के स्कूल बाजार की इंदिरा हांडा के नाम से यह बिल है, जिसने उनके होश उड़ा रखे हैं। उन्होंने बताया कि दो महीने में एक बार इस साल जनवरी में उनका पानी का बिल 1185 रुपए का आया था। अपै्रल में 1304 रुपए, मई में 3408, अगस्त में 3098 रुपए आया, मगर अचानक ही अक्तूबर में यह बिल 33686 रुपए दे दिया गया। उन्होंने इसके बारे में विभाग के अधिकारियों के पास अपनी शिकायत भी दर्ज करवाई है। जिसके बाद आईपीएच कर्मी जांच करने भी आए और कहा कि मीटर सही है। टंकी से पानी ओवरफ्लो होने से यह बिल आया है। रोचक तो यह है कि इस बार का बिल 2051 ही जोड़ा गया है, मगर पिछले बिल को ठीक नहीं किया गया। उन्होंने बताया कि बिल 12500 के लगभग सीवरेज के चार्जिज है। गौरतलब है कि पानी के अधिक बिल आने की शिकायत पूरे मंडी शहर के उपभोक्ताओं की है। उधर, इस बारे में आईपीएच मंडी के अधिशाषी अभियंता विवेक हाजरी का कहना है कि उन्होंने कुछ ही दिन पहले कार्यभार संभाला है। वह इस बारे में जांच करने के बाद उचित कार्रवाई अमल में लाएंगे।