Monday, September 23, 2019 01:45 AM

हरिद्वार में यात्री निवास बनाना प्राथमिकता

मंडी शहर की जन समस्याओं को उठाएगी मंडी जनकल्याण संस्था

मंडी - मंडी शहर की परंपरागत जन समस्याओं को नए सिरे से उठाने के लिए अब एक नई संस्था का गठन किया गया है। मंडी जन कल्याण संस्था के अध्यक्ष हरीश शर्मा ने कहा कि नवगठित संस्था मंडी जिला खासकर मंडी शहर की जन समस्याओं को तरतीब बार सरकार के समक्ष उठाकर उनके समाधान की दिशा में प्रयास करेगी। उन्होंने बताया कि मंडी शहर जो 1527 में बसा है, नदी घाटी सभ्यता का उदाहरण है। यह शहर ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक दृष्टि से समृद्ध होने के अलावा पर्यटन के नजरिए से भी विकसित हो सकता है, लेकिन आज तक इसे विकसित करने की दिशा में कोई प्रयास नहीं किए गए। उन्होंने कहा कि अब मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर मंडी जिला से ही हैं, मंडी शहर उनकी कर्म भूमि रही है, जिसके चलते मंडी से उनका विशेष लगाव है। नवगठित जिला मंडी जन कल्याण संस्था मंडी के विकास का रोड पैम तैयार करेगी। इसके अलावा हिंदुओं के पावन तीर्थ स्थल हरिद्वार में मंडीवासियों के लिए यात्री निवास बनाने को संस्था प्राथमिकता देगी, जिसके लिए सबसे पहले उत्तराखंड सरकार से हरिद्वार में जमीन लेने के अलावा प्रदेश सरकार के सहयोग से 15-85 की तर्ज पर निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा मंडी में पार्किंग की समस्या के समाधान के लिए प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मंडी में मल्टी स्टोरी पार्किंग का शिलान्यास होने के बावजूद इसका कार्य आगे नहीं बढ़ पाया है। इसके अलावा ब्यास नदी पर पुरानी मंडी से पड्डल को जोड़ने वाला पुल और अन्य समस्याओं को सरकार के समक्ष उठाने का प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर संस्था के महासचिव बीसी सरोच, संरक्षक हरीश शर्मा, शिवपाल शर्मा और रेवती राम शर्मा के अलावा अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।