Friday, October 18, 2019 06:03 PM

हर फरियादी को मिले इनसाफ

धर्मशाला में राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के सेमिनार में बोले जस्टिस धर्म चंद चौधरी

धर्मशाला -राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के अभियान के तहत राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण का जिला मुख्यालय धर्मशाला में महत्त्वपूर्ण सेमिनार रविवार को आयोजित किया गया, जिसमें मुख्यातिथि व मुख्यवक्ता के रूप में हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट शिमला के न्यायाधीश एवं प्रदेश विधिक सेवा प्राधिकरण के चैयरमेन जस्टिस धर्म चंद चौधरी ने शिरकत की। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कांगड़ा की ओर से करवाए गए सेमिनार रोल एंड रिस्पांसबिलिटी, लिगल सर्विस लॉयर, पारा लिगल वालंटियर एंड वैरियस फैक्ट्स ऑफ लिगल सर्विसेज में जिला एवं सत्र न्यायाधीश कांगड़ा एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष जेके शर्मा, प्राधिकरण के महासचिव न्यायधीश अमित मंडयाल और जिला कांगड़ा बार एसोसिएशन के अध्यक्ष तरुण शर्मा विशेष रूप से मौजूद रहे। इस दौरान मुख्यातिथि ने दीप प्रज्वलित कियाए साथ ही उन्हें हिमाचली टोपी पहनाकर स्वागत किया गया। इस दौरान जस्टिस धर्म चंद चौधरी ने न्यायाधीश व अधिवक्ताओं को संबोधित करते हुए सेवा प्राधिकरण के तहत कार्य करने के बारे में विसतार से जानकारी प्रदान की। उन्होंने बताया कि समाज के अति निर्धन व्यक्ति, पिछड़े, ग्रामीण, स्लम और लेबर कालोनी से लेकर हर व्यक्ति तक न्याय पहुंचना चाहिए। जस्टिस ने बताया कि लिगल सर्विस अथारिटी द्वारा निःशुल्क न्याययिक सहायता उपलब्ध करवाई जा रही है। ऐसे में सभी लोगों को न्याय के लिए उचित सुविधा उपलब्ध करवाना सभी नयायाधीश और अधिवक्ताओं की जिम्मेदारी है। इसके लिए समय-समय पर आउटरीच प्रोग्राम भी करवाए जाते है। उन्होंने इसके लिए ओर अधिक प्रयास करने कक बात कहीए ताकि हर जरूरतमंद तक न्याय पहुंच पाए।  राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष, उच्च न्यायालय के न्यायाधीश धर्म चंद चौधरी ने रविवार को बीडीओ सभागार धर्मशाला में लीगल ऐड काउंसलर्स, पेनल अधिवक्ता तथा रिटेनर अधिवक्ताओं, वालंटियर्स को विधिक सेवा प्राधिकरण की कार्यप्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी दी। राज्य के कमजोर वर्गों एवं आर्थिक रूप से असहाय व्यक्तियों को उनके मौलिक अधिकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए निःशुल्क विधिक सेवा सलाह का प्रावधान किया गया है। इससे पहले जिला एवं सत्र न्यायाधीश जेके शर्मा ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए जिला में विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित किए गए कार्यक्रमों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गई। इस अवसर पर विधिक सेवा प्राधिकरण के जिला महासचिव न्यायाधीश अमित मंडयाल, बार एसोसिएशन के अध्यक्ष तरुण शर्मा सहित जिला कांगड़ा के सभी न्यायाधीश, अधिवक्ता और गणमान्य लोग उपस्थित रहे।