Sunday, November 17, 2019 04:28 PM

हिमाचल की जनता से माफी मांगे भाजपा

धर्मशाला     - पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार के दूसरी राजधानी के बयान से निचले हिमाचल के लाखों लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। भाजपा इस मुद्दे पर जनता से माफी मांगे। ये शब्द नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहे। उन्होंने कहा कि बीजेपी अपने परिवार की लड़ाई के चलते जनता की भावनाओं से खिलबाड़ नहीं कर सकती। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने बाकायदा धर्मशाला को दूसरी राजधानी बनाने की अधिसूचना जारी की है। श्री अग्निहोत्री ने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आने पर यहां और अधिक सुविधाएं बढ़ाएगी। धर्मशाला के कर्मचारियों को शिमला की तर्ज पर सुविधाएं देने सहित चरणबद्ध तरीके से अन्य सुविधाएं दी जाएंगी। कांगे्रस विधायक दल के नेता ने भाजपा पर निचले हिमाचल से भेदभाव के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने स्टैंड पर स्थिर है कि धर्मशाला में दूसरी राजधानी है और रहेगी। भविष्य में जब भी कांग्रेस की सरकारें आएंगी, तो इसे और मजबूत बनाने की स्थिति में प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जो पत्र बम निकला था, उस मामले की मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जांच क्यों नहीं करवाई। मुकेश अग्निहोत्री ने यह भी आरोप लगाया है कि भाजपा धन, बल के बूते चुनाव लड़ने का प्रयास कर रही है। मुख्य सचिव और सचिवों की पूरी टीम चुनावों के दिनों में धर्मशाला भेजने की क्या जरूरत थी। इन्वेस्टर मीट के नाम पर धर्मशाला को चमकाने का प्रयास कर वोटरों को लुभाने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन जनता भाजपा के झांसे में आने वाली नहीं है और भाजपा की पोल भाजपा के ही वरिष्ठ नेता खोल रहे हैं। वहीं विधायक राजेंद्र राणा ने कहा कि धर्मशाला में भाजपा पिछड़ चुकी है। भाजपा के कोई भी नेता नहीं चाहते कि उनकी जीत हो। ऐसे में अब हालत ऐसे बन गए हैं कि कांग्रेस का मुकाबला आजाद प्रत्याशी से हो रहा है। क्षेत्र में कई ऐसे समीकरण बन गए हैं, जिससे दिन व दिन माहौल भाजपा के विपरीत बन रहा है।