Friday, January 17, 2020 07:14 PM

हिमाचल के दो चैस प्लेयर इंदौर में पाएंगे इनाम

25 अगस्त को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड व अल्मा द्वारा किया जाएगा सम्मानित

मंडी - शिक्षा विभाग के एक अधिकारी व प्रवक्ता ने शतरंज गेम में नया रिकार्ड बनाकर अलग पहचान बनाई है। यह रिकार्ड अप्रैल  माह में प्रारंभिक शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक हितेश आज़ाद और गोहर स्कूल के भौतिक विज्ञान विषय के प्रवक्ता  हंसराज ठाकुर ने बनाया है। इस उपलब्धि पर दोनों को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड व अल्मा सोसायटी मध्य प्रदेश के इंदौर में 25 अगस्त को सम्मानित किया गया जाएगा। इससे पहले दोनों प्रतिभागियों को वर्ल्ड रिकार्ड ऑफ इंडिया व इंडियन बुक ऑफ रिकार्ड से नवाजा जा चुका है। बता दें कि जिला मंडी शतरंज संघ द्वारा अप्रैल में मतदाता जागरूकता हेतु शतरंज मैराथन का आयोजन बीबीएमबी कालोनी बग्गी (सुंदरनगर) में किया गया था। इस दौरान हिमाचल प्रदेश के दोनों प्रतिभागियों द्वारा 53 घंटे 17 मिनट 49 सेकेंड तक लगातार शतरंज खेलकर नया विश्व रिकार्ड बनाया था, जबकि इससे पहले पौलेंड के खिलाडि़यों द्वारा 2017 में 50 घंटे एक मिनट सात सेकेंड तक लगातार शतरंज खेलने का रिकार्ड बनाया गया था। दोनों प्रतिभागियों ने मतदाताओं से अपील की थी कि मजबूत लोकतंत्र के लिए वोट देने के लिए प्रेरित किया। इसका प्रसारण सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, व्ट्सऐप तथा यू-ट्यूब पर लाईव दिखाया गया। प्रतियोगिता डिजिटल बोर्ड पर खेली गई।

शतरंज पाठ्यक्रम में होगी शामिल

हिमाचल प्रदेश एक ऐसा राज्य बन गया है कि जहां पहली से लेकर जमा दो कक्षा तक शतरंज खेल स्पर्धा का हिस्सा बन चुकी है। जबकि पाठ्यक्रम की प्रक्रिया  अंतिम पड़ाव में हैं। पाठ्यक्रम एससीईआरटी सोलन को प्रेषित किया गया है।

गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड के लिए पत्राचार जारी

दुनिया में सबसे अधिक समय तक शतरंज गेम खेलकर लोगों को मतदान के प्रति जागरुक करने पर प्रदेश के दोनों खिलाडि़यों का रिकार्ड गिनीज बुक में दर्ज होगा। इसके लिए गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड के लिए पत्राचार प्रक्रिया जारी है।