Monday, July 13, 2020 03:29 AM

होम क्वारंटाइन के लिए जंगल में डाला डेरा

नौहराधार-आए दिन होम क्वारंटाइन किए गए लोगों द्वारा होम क्वारंटाइन के नियमों के उल्लंघन के मामले सामने आते रहते हैं यहां तक कि कुछ लोगों के खिलाफ  तो पुलिस में मामले तक दर्ज करने पड़ते हैं, वहीं दूसरी तरफ  कुछ ऐसे लोग भी है जो होम क्वारंटाइन के समय को टैंट में रह कर बिता रहे हैं और होम क्वारंटाइन के लिए सरकार द्वारा निर्धारित किए गए सभी नियमों का पालन कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला राजगढ़ व चौपाल उपमंडल की सीमा पर स्थित टाली भुज्जल पंचायत के पाब गांव में देखने को मिला है जहां एक युवक ने अपने आपको गांव के बाहर जंगल में  एक टैंट में क्वारंटाइन कर रखा है। सुनील कुमार निवासी पांब के अनुसार वह गोवा में एक ट्रैवल एजेंसी में काम करता था और लगभग दो महीने से लॉकडाउन के कारण वही फंसा था प्रदेश सरकार द्वारा गोवा में फंसे सभी हिमाचलियों को वापस लाया गया, जिसमें सुनील कुमार भी शामिल था जैसे ही सुनील कुमार को इस बात का पता चला कि उसे 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन रहना होगा उसने अपने घरवालों को इसकी सूचना दी और घर वालों से इसके लिए गांव से बाहर जंगल में एक टैंट बना दिया। 15 मई से सुनील इसी टैंट में रह रहा है यहां काबिल गौर है कि यह गांव दूर दराज क्षेत्र में पड़ता है और इसके चारों तरफ  घने जंगल है और रात्रि के समय जंगली जानवरों का खतरा बना रहता है। सुनील कुमार जहां गोवा से वापस लाने के लिए हिमाचल सरकार का धन्यवाद कर रहा है वहीं सभी लोगों से अपील कर रहा है कि वह होम क्वरांटाइन के नियमों का पालन करें।