Tuesday, August 04, 2020 09:38 AM

होली पर बच्चों की सुरक्षा जरूरी

होली, मौज और मस्ती करने का त्योहार है। इस मौज मस्ती में बड़े से लेकर छोटे बच्चे तक सभी शामिल रहते हैं। मगर होली की धमाचौकड़ी में बच्चे सबसे आगे रहते हैं। उनकी होली तो सबसे पहले शुरू होती है और सबसे बाद में खत्म। मगर होली खेलने के दौरान कई बार बच्चे इस बात का ख्याल नहीं रख पाते कि क्या करने से उन्हें बाद में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इस लिए माताओं को इस त्योहार पर काफी सतर्क रहने की जरूरत होती है। ताकि आपका बच्चा होली भी खेल ले और उसे इसके साइडइफेक्ट्स भी न झेलने पड़े। इसके लिए आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है।

बच्चों को न भेजें घर के बाहर

होली एक ऐसा त्योहार होता है, जिसमें हर जगह हुड़दंग रहता है। ऐसे में अपने बच्चे को घर पर ही रह कर होली खेलने दें। यदि बच्चा घर से बाहर जाने की जिद कर रहा हो, तो आप भी उसके साथ ही रहें। किसी भी अंजान व्यक्ति के साथ बच्चे को होली न खेलने दें। कई बार होली की आड़ में कुछ लोग बच्चों के साथ गलत हरकत कर बैठते हैं। इसके साथ ही घर में केवल उन्हीं को होली खेलने के लिए बुलाएं, जिन पर आपको भरोसा हो।

पानी की होली से बचें

होली रंगों का त्योहार है इसमें पानी का क्या काम। फिर भी बहुत सारे लोग पानी वाले रंग से होली खेलना पसंद करते हैं। मगर आप अपने बच्चे को ऐसा करने से रोकें और उसके लिए ऑर्गेंक कलर्स लाएं। बच्चे को बिना पानी के होली खेलाएं और खुद भी उसमें शामिल हों। बच्चा आपको भी सूखे रंगों से होली खेलते देखेगा तो पानी से होली खेलने की जिद नहीं करेंगा। फिर भी पानी से ही होली खेलना चाहे तो बच्चे को एक अच्छी पिचकारी ला कर दें, जिससे उसकी स्किन पर रंग न लगे। ज्यादा देर पानी से बच्चे को न खेलने दें वरना बच्चे की तबियत पर भी इसका खराब असर पड़ सकता है।

सेफ्टी एक्ससरीज जरूर पहनाएं :

बच्चे को सेफ्टी एक्ससरीज पहनाए बिना होली न खेलने दें। खासतौर पर आंखों में चश्मा और कैप जरूर लगाएं। इससे बच्चे की आंखों और बालों में रंगा नहीं जाएगा। इसके साथ ही बच्चे की स्किन पर होली खेलने से पहले ही क्रीम जरूरी लगाएं। इससे बच्चे की त्वचा पर कैमिकल युक्त रंगों का खराब असर नहीं पड़ेगा। हो सके तो बच्चे को होली खेलने के दौरान फुल कपड़े पहनाएं। इसे बच्चे की त्वचा पर कम से कम रंग लगेगा।

झगड़े से बचें

कई लोगों को होली पसंद नहीं होती या फिर वे किसी कारण से होली नहीं खेलना चाहते, मगर बच्चे यह बात नहीं समझते और खेल-खेल में उन पर रंग डाल देते हैं। ऐसे में कई बार झगड़ा भी हो जाता है। इससे बचने के लिए बच्चों को पहले ही बता दें कि उन्हें होली उन्हीं के साथ खेलनी हैं, जो उनके साथ खेलना चाहें, जो मना करे उस पर रंग नहीं डालना है।