Sunday, November 17, 2019 03:33 PM

12 हजार ऊंचे कंडे पर पहुंची रोशनी

रिकांगपिओ -किन्नौर जिला का प्रत्येक गांव जहां पिछले कई दशकों से विद्युत की रोशनी से जगमगा रहा है वहीं अब किन्नौर के कंडा में भी विद्युत आपूर्ति पहुंचाने की कवायद तेज हो गई है। इसी कड़ी में सायराक क्षेत्र के 12000 फिट की ऊंचाई वाले कोठी कंडा क्षेत्र में करीब 60 लाख रुपए की लागत से विद्युत आपूर्ति पहुंचाई गई। ताले नामक स्थान पर 100 किलो वाट क्षमता का ट्रांसफार्मर स्थापित कर इस क्षेत्र के शाडुगडूम, ताले, गोनांग, कातपा, मिलस्ती, शाटी आदि क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति मुहैया करवाई गई। सोमवार देर शाम किन्नौर के विधायक जगत सिंह नेगी ने ताले नामक स्थान पर विद्युत आपूर्ति का उद्घाटन कर कोठी, खवांगी कंडें के लोगों को विद्युत मुहैया करवाई। इस दौरान विधायक के साथ पंचायत प्रधान कोठी शारदा नेगी, पूर्व पंचायत प्रधान एवं हिमाचल प्रदेश जनजातीय परिषद के पूर्व सदस्त प्रीतम नेगी, पंचायत समिति सदस्य अभिषेक ठाकुर, पंचायत उप प्रधान कोठी दयाल नेगी, पंचायत उपप्रधान खवांगी जसवीर नेगी,  अधिशासी अभियंता विधुत बोर्ड टाशी नेगी, एसडीओ आइपीएच देवा नेगी, राज नेगी, ज्ञान प्रकाश, अनित नेगी, शम्मी कपूर, शैलेंद्र नेगी सहित पीडब्ल्यूडी, आइपीएच विभाग के कई अधिकारी, कर्मचारी व ग्रामीण मौजूद थे। कोठी पंचायत क्षेत्र के 12000 फीट की ऊंचाई वाले क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति मुहैया करवाने पर स्थानीय ग्रामीणों ने विधायक जगत सिंह नेगी सहित विभाग का धन्यवाद किया। इस दौरान ग्रामीणों ने नाच गाना का भी आयोजन किया। इस दौरान विधायक जगत सिंह नेगी ने आइपीएच सहित पीडब्ल्यूडी विभाग के तहत क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों का भी जायजा लिया। इस दौरान श्री नेगी ने करीब चार घंटे की पैदल यात्रा कर शोमालिंग से कोठा तक बन रहे सिंचाई कूहल योजना का भी निरीक्षण किया। बता दे कि आईपीएच विभाग रिकांगपिओ डिवीजन 1992 से शोमालिंग कंडा से कोठी पंचायत क्षेत्र के लिए सिंचाई कूहल का निर्माण कर रही है। विभाग द्वारा अब तक इस कूहल के निर्माण पर करीब छह करोड़ से भी अधिक की राशी व्यय कर चुकी है। बताया जाता है कि यह आइपीएच विभाग रिकांगपिओ डिवीजन की एक ड्रीम प्रोजेक्ट है। करीब तीन दशकों से निर्माणाधीन इस  सिंचाई कूहल के बनने के बाद कोठी सहित आसपास के कई गांव को भी फायदा होगा।