Wednesday, October 16, 2019 01:59 AM

14 को दिल्ली राजघाट में उपवास पर महासंघ

रोहडू - राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ के सभी राज्यों के प्रदेश जिला पदाधिकारी व विभागीय संगठनों के अध्यक्ष व महामंत्री 14 अक्टूबर को डीएनसी के तत्वावधान में होने वाले एक दिवसीय उपवास में बढ़.चढ़कर भाग लेंगे। जीएनसी से जुड़े छह महासंघ राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ, केंद्रीय कर्मचारी महासंघ, रेलवे महासंघ, पोस्टल महासंघ, प्रतिरक्षा स्वायत्तशासी महा संघ से जुड़े कर्मचारी नेता भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि उपवास का कार्यक्त्रम दिल्ली के राजघाट श्रद्धेय अटल जी के स्मारक के सामने होगा। संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष विपन कुमार डोगरा ने बताया कि उपवास सरकार को जगाने हेतु और लंबित मांगें पूर्ण करने व कर्मचारी विरोधी नीतियों को बदलने के लिए किया जा रहा है। कर्मचारियों की मुख्य मांगों में देश के सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन सुविधा देने, देश में सभी रूपों में एक समान वेतन मान, सेवानिवृत्ति आयु व अन्य सुविधाएं देने व न्यूनतम वेतन 28000 करने, आयकर सीमा में छूट व 80000 तक करने, ठेका आउटसोर्सिंग मानदेय व विभिन्न योजनाओं के तहत हो रही भर्तियों में रोक लगाकर नियमित भर्ती करने व कार्यरत कर्मचारियों को नियमित करने हेतु पालिसी बनाने, अंधाधुंध निजीकरण पर रोक लगाने, बोनस का भुगतान सभी तृतीय व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को बिना शर्त व बिना सीलिंग के भुगतान करना। व सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय समान काम समान वेतन का लाभ सभी राज्यों के कर्मचारियों को देना शामिल है। उपवास के बाद इन मांगों पर आधारित ज्ञापन सरकार व प्रधानमंत्री महोदय को दिया जाएगा। महासंघ की 22, 23 व 24 नंबर को भुवनेश्वर उड़ीसा में होने वाली एवं केंद्रीय कार्यसमिति बैठक में आगामी रणनीति तैयार की जाएगी।