Thursday, July 02, 2020 06:21 PM

17 शहरों से आने वाले होंगे इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन, सरकार ने जिलों को भेजी लिस्ट, रेल सेवा शुरू होने के बाद हजारों के पहुंचने की संभावना

सरकार ने जिलों को भेजी लिस्ट, रेल सेवा शुरू होने के बाद हजारों के पहुंचने की संभावना

शिमला – देश के चिन्हित 17 शहरों से आने वाले लोगों को हिमाचल में संस्थागत क्वारंटाइन किया जाएगा। राज्य सरकार ने नोटिफिकेशन जारी करते हुए इसकी सूची जिलों को भेज दी है। इसके अलावा देश के दूसरे सभी हिस्सों से आने वाले लोगों को सीधे होम क्वारंटाइन किया जाएगा। खास है कि हिमाचल सरकार ने इससे पहले महाराष्ट्र, कर्नाटक, राजस्थान, गुजरात, दिल्ली, पश्चिम बंगाल तथा तमिलनाडू सहित कई राज्यों को रेड ज़ोन में शामिल किया था। इन प्रावधानों के तहत इन सभी राज्यों से आने वाले लोगों को सीधे इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन करने के आदेश जारी किए हैं। चूंकि पहली जून से देश भर में यातायात तथा रेल सेवा आरंभ हो गई है। इस कारण अब राज्य सरकार को यह अंदेशा है कि हिमाचल में हर दिन हजारों लोग देश भर से पहुंचेंगे। इस आशंका के चलते संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्था तहस-नहस हो सकती थी। लिहाजा स्वास्थ्य विभाग ने नेशनल हैल्थ मिशन के तहत चार पन्नों की नई एडवाइजरी जारी की है। इसमें कहा गया है कि मुंबई, चेन्नई, अहमदाबाद और हैदराबाद के अलावा कुछ छोटे-छोटे शहरों को नोटिफाई किया है। इन शहरों से आने वाले लोगों को भी संस्थागत क्वारंटाइन में भेजा जाएगा। प्रदेश के संस्थागत क्वारंटाइन व्यवस्था पर भी सवाल उठ रहे थे। हमीरपुर में कोरोना संक्रमितों की लगातार बढ़ोतरी के पीछे इस व्यवस्था को भी कसूरवार ठहराया जा रहा था। इसी बीच यह आशंका भी बन रही है कि बेहतर प्रबंध न होने के कारण इंस्टीच्यूशनल सेंटर में संक्रमण फैल सकता है। इसके चलते सरकार ने इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन के नियमों में बदलाव किया है।

ये हैं 17 शहर

मुंबई, चेन्नई, अहमदाबाद, ठाणे, पुणे, हैदराबाद, थिरूवलूर, हावड़ा (कोलकाता), इंदौर, जयपुर, जोधपुर व  चेंगलपट्ट।  इसके अलावा दिल्ली के शहादरा, न्यू दिल्ली और साऊथ दिल्ली को शामिल किया गया है। नॉर्थ ईस्ट और साउथ वेस्ट दिल्ली से आने वाले भी संस्थागत क्वारंटाइन में जाएंगे।

सात दिन में करवाना ही होगा कोविड टेस्ट

इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन सेंटर में रखे जाने वाले लोगों का सात दिन के भीतर कोविड टेस्ट करना जरूरी होगा। इसकी रिपोर्ट नेगेटिव आने पर तुरंत घर भेजा जाएगा और पॉजिटिव मरीजों को आइसोलेट करने का प्रावधान होगा। कोविड मरीजों की सात दिन के बाद स्वास्थ्य जांच होगी। इस दौरान रिपोर्ट नेगेटिव आने पर अगले सात दिनों के लिए होम क्वारंटाइ की निगरानी होगी। इसके विपरीत पॉजिटिव रिपोर्ट आई, तो तीन दिन बाद फिर स्वास्थ्य जांच के लिए कोरोना टेस्ट होगा।

इनके लिए घर जाएंगी स्वास्थ्य विभाग की टीमें

नए प्रावधानों में ए-सिंपटमिक का रैंडमली टेस्ट किया जाएगा। सिंपटमिक सभी लोगों के टेस्ट होंगे। नई गाइडलाइंस में कहा है कि टेस्टिंग के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीमें लोगों के घर जाएगी या उन्हें कहीं सुरक्षित स्थान पर बुलाया जाएगा।

महिला-बच्चों समेत इन्हें छूट

बच्चों और महिलाओं को संस्थागत की बजाय होम क्वारंटाइन करने को कहा है। 60 साल से अधिक आयु और अस्थमा, बीपी, शुगर, किडनी पीडि़त, कैंसर पीडि़त व टीबी मरीजों को भी घर भेजने को कहा गया है।

The post 17 शहरों से आने वाले होंगे इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन, सरकार ने जिलों को भेजी लिस्ट, रेल सेवा शुरू होने के बाद हजारों के पहुंचने की संभावना appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.