18 सेकंड में 5000 अंक याद

उत्तर कोरिया की रहने वाली 22 वर्षीय पांग उन सिम जीत चुकी है कई मेडल

दुनिया में उत्तर कोरिया की चर्चा तानाशाह किम जोंग उन और उनके परमाणु-मिसाइल परीक्षणों के चलते ज्यादा होती है। लेकिन यहां के लोगों के पास खुद के देश पर गर्व करने के और भी चीजें हैं। याददाश्त (मेमोरी) के मामले में उत्तर कोरियाई किसी से कम नहीं। यहां की 22 साल की पांग उन सिम महज 18 सेकंड में पांच हजार से ज्यादा अंक याद कर लेती हैं। इतना ही नहीं वे एक मिनट से कम वक्त में ताश की पूरी गड्डी (52 पत्ते) का पूरा ऑर्डर याद कर उसे दोबारा से जमा लेती हैं। पिछले साल दिसंबर में उत्तर कोरिया पहली बार वर्ल्ड मेमोरी चैंपियनशिप में शामिल हुआ। इसमें पांग ने ही देश का प्रतिनिधित्व किया। कोरियाई टीम ने सात स्वर्ण, सात रजत और पांच कांस्य पदक अपने नाम किए। पांग कहती हैं कि यह आसान नहीं होता। लेकिन जब आप तयशुदा वक्त में बेहतर कोशिश करने लगते हैं तो चीजों याद रहने लगती हैं। यह उतना भी कठिन नहीं है, जितना लोग इसे समझते हैं।  चैंपियनशिप में पांग ओवरऑल दूसरे स्थान पर रहीं। उन्होंने 5187 बाइनरी नंबरों और 1772 कार्ड्स को एक घंटे में जमा दिया। पांग प्लेइंग कार्ड्स की एक गड्डी को उसी ऑर्डर में 17.67 सेकंड में जमाने का रिकार्ड है। उत्तर कोरियाई टीम के कोच चा योंग हो के मुताबिक, याददाश्त की तकनीकें बच्चों को मिडिल स्कूल से सिखाई जाती हैं। चीजों को याद रखने के लिए हम फीलिंग, टेस्ट, मूवमेंट, इमेजिनेशन समेत उन सभी चीजों की मदद लेते हैं, जो हमारे दिमाग में है।

Related Stories: