21 दिनों के लॉकडाउन के बाद बीसीसीआई पर आईपीएल रद्द करने का दबाव बढ़ा, बोर्ड कभी भी ले सकता है फैसला

कोरोना महामारी के बीच मंगलवार का दिन खेल जगत के लिए बेहद सनसनीखेज रहा. टोक्यो ओलंपिक को स्थगित कर दिया गया. दूसरी तरफ कोरोना से निपटने के लिए 21 दिनों के लॉकडाउन की पीएम मोदी की घोषणा के बाद अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) पर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को रद्द करने का दबाव बढ़ गया है. मंगलवार को ही बीसीसीआई ने आईपीएल के टीम मालिकों के साथ कॉन्फ्रेंस कॉल भी टाल दी. अब भी बीसीसीआई कर रहा इंतजार..? ओलंपिक स्थगित हो गया, लेकिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड अब भी इंतजार कर रहा है. वह आईपीएल पर कब फैसला लेगा..? नाम गुप्त रखने की शर्त पर बीसीसीआई के ही एक अधिकारी ने कहा है कि जब 'खेल महाकुंभ' ओलंपिक को टाला जा सकता है, तो उसके सामने आईपीएल तो कुछ भी नहीं है. कोरोना महामारी के मद्देनजर इस चकाचौंध भरी टी-20 लीग पर अब तक कुछ भी फैसला नहीं लेना हैरान करता है. बीसीसीआई ने इस महीने की शुरुआत में आईपीएल को 15 अप्रैल तक निलंबित कर दिया था, तब उसने कहा था कि टूर्नामेंट की मेजबानी केवल स्थिति में सुधार होने पर किया जाएगा. लेकिन स्थिति और गंभीर हो गई. भारत में 550 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं, जबकि 11 लोगों की मौत हो चुकी है.

Related Stories: