Sunday, May 09, 2021 07:52 PM

23 छात्र-छात्राओं को मैरिट सर्टिफिकेट

कार्यालय संवाददाता-बिलासपुर सदर विकास खंड के अंतर्गत नवनिर्वाचित आठ पंचायत के पंचायत प्रतिनिधियों के लिए आयोजित छह दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का समापन हो गया। समापन मौके पर सदर विधायक सुभाष ठाकुर ने विशेष रूप से शिरकत की। वहीं, बीडीओ सदर भाग सिंह ठाकुर ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस दौरान विधायक सुभाष ठाकुर ने पंचायत प्रतिनिधियों से हर व्यक्ति की समस्याओं के समाधान का आह्वान किया। वहीं, उन्होंने कहा कि पंचायत प्रतिनिधि समान विकास करवाएं। सरकार की ओर से चलाई जा रही योजनाओं को आम जनता तक पहुंचाएं। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा आम जनता के कल्याण के लिए कई बेहतर योजनाएं चलाई गई हैं। जिन्हें जनता तक पहुंचाने में पंचायत प्रतिनिधियों की अहम भूमिका रहती है।

इस दौरान उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए। बता दें कि सदर विकास खंड के तहत नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों के लिए आयोजित प्रशिक्षण शिविर संपन्न हो गए हैं। नियमित प्रक्रिया के तहत इन पंचायत प्रतिनिधियों को प्रशिक्षण दिया गया है। इसमें सरकारी योजनाओं के अलावा न्यायिक प्रणाली के बारे में पंचायत प्रतिनिधियों को जानकारी दी गई। अंतिम सदर विकास खंड बिलासपुर के प्रशिक्षण भवन में आयोजित प्रशिक्षण शिविर में बरमाणा, जमथल, द्रोबड़, धौनकोठी, सोलग जुरासी के करीब 75 पंचायत प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बीडीओ भाग सिंह ठाकुर ने बताया कि कुछ एक पंचायत प्रतिनिधि प्रशिक्षण शिविर में भाग नहीं ले पाए हैं। उन्होंने कहा कि जिन पंचायत प्रतिनिधियों को प्रशिक्षण दिया गया है अब वह पंचायत प्रतिनिधि अपनी-अपनी पंचायत में लोगों को सरकारी योजनाओं के बारे में अवगत करवाएंगे। इस दौरान पंचायत समिति अध्यक्षा सीता धीमान, बरमाणा पंचायत प्रधान पूजा धीमान, जमथल पंचायत प्रधान कल्पना देवी, द्रोबड़ पंचायत प्रधान निशा देवी, धौणकोठी पंचायत प्रधान रविंद्र कुमार, धारटटोह से सुंदरलाल, सोलग जुरासी से सोनू देवी सहित अन्य मौजूद थे।

बिलासपुर में एम्स के पास सवारियों की होशियारी से बची जान; अस्पताल में भर्ती, हालत में सुधार

कार्यालय संवाददाता- बिलासपुर हिमाचल पथ परिवहन निगम की चंबा डिपो की बस के परिचालक को बीच रास्ते में ही हार्ट अटैक पड़ गया। हालांकि अब परिचालक की तबीयत बेहतर बताई जा रही है। वहीं, क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में उपचाराधीन है। वहीं, दूसरी ओर हिमाचल पथ परिवहन निगम प्रबंधन ने अन्य किसी कंडक्टर की डयूटी इस रूट पर लगाई गई है। वहीं, बस में सवार यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया गया है। जानकारी के अनुसार चंबा डिपो की एचआरटीसी की बस चंबा-शिमला रूट पर जा रही थी। लेकिन सुबह के करीब सात बजे एचआरटीसी बस के परिचालक रजनीश कुमार (40) को बिलासपुर एम्स के पास पहुंचते ही हार्ट अटैक आ गया।

इसके चलते यहां पर मौजूद लोगों ने तुरंत ही एंबुलेंस को फोन कर दिया। वहीं, एंबुलेंस का इंतजार किए बिना बस को यथाशीघ्र चिकित्सालय पहुंचाया। जहां उपचार के बाद परिचालक को होश आया। अभी तक चिकित्सकों ने परिचालक को छुट्टी नहीं दी है। वहीं, परिजनों को भी बता दिया गया है। चालक ने यह भी बताया कि डॉक्टरों के अनुसार अब इसकी हालत खतरे से बाहर है, उपचार जारी है। उन्होंने बताया कि बस 37 सीटर थी। बस सवारियों से पूरी तरह से भरी हुई थी। उन्होंने बताया कि बस उपरोक्त को अन्य परिचालक की व्यवस्था करके परिवहन विभाग द्वारा सवारियों सहित अपने गंतव्य स्थान के लिए रवाना कर दिया गया। बस के चालक संजीव कुमार ने बताया कि बस के परिचालक रजनीश कुमार को निर्माणाधीन एम्स कोठीपुरा के समीप अटैक आ गया। उन्होंने बताया कि सवारियों को गंतव्य तक पहुंचाया गया है। उन्होंने कहा कि इस बारे में उच्च अधिकारियों को भी अवगत करवा दिया गया है।

क्या कहते हैं आरएम उधर, इस बारे में आरएम बिलासपुर किशोरी लाल ने बताया कि इस तरह की सूचना मिली थी। इसके चलते अन्य कंडक्टर की व्यवस्था की गई। सवारियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया गया है। डॉक्टरों के अनुसार अब परिचालक की हालत खतरे से बाहर है, उपचार जारी है। जल्द पूरी तरह स्वस्थ होंगेे।

जिला में महामारी के मरीजों का आंकड़ा 3648 के पार; अब तक 49 की मौत

कार्यालय संवाददाता- बिलासपुर जिला बिलासपुर के लोगों को एक बार फिर कोरोना महामारी डराने लगी है। बिलासपुर जिला में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढऩे लगी है। हालांकि कुछ दिन पहले कोरोना का कहर कम हो चुका था। लेकिन अब एक बार कोरोना ने डंक मारना शुरू कर दिया है। शनिवार को जिला मे 75 मामले सामने आए हैं। जिसके चलते जिला में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 3648 पहुंच गया हैं। जिला में एक बार फिर कोरोना वायरस का कहर शुरू हो गया है।

एक ओर जहां सरकार ने शिक्षण संस्थान बंद रखने का निर्णय लिया है। वहीं, अब कोरोना महामारी के लिए बनाए गए नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। यहां तक जिला प्रशासन की ओर से अब तो नो मास्क नो सर्विस नियम भी लागू कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार जिला के तहत झंडूता, बरमाणा, घुमारवीं सहित अन्य क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए हैं। बता दें कि जिला में कोरोना के चलते कई लोग अपनी जान भी गंवा चुके हैं। अब तक जिला से संबधित 49 लोगों की मौत हो चुकी है। जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि लगातार कोरोना महामारी बढ़ती जा रही है। बहरहाल, अभी लोगों को कोरोना वायरस से राहत मिलती नजर नहीं आ रही है। जिसके चलते सभी लोग सतर्क और जागरूक रहें।

क्या कहते हैं मुख्य चिकित्सा अधिकारी इस बारे में सीएमओ बिलासपुर डा. प्रकाश दरोच ने बताया कि जिला में कोरोना संक्रमित मरीजों को आंकड़ा 3648 पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि 75 नए मामले कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने जानकारी दी कि उक्त सभी लोगों के टेस्ट करवाए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर लोग टेस्ट करवाएं। वहीं, स्वास्थ्य विभाग द्वारा बनाए गए नियमों का पालन सभी लोग करें।

यातायात व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस विभाग का अहम फैसला

कार्यालय संवाददाता—बिलासपुर खारसी चौक के समीप शालूघाट चौक पर भी अब पुलिस तैनात रहेगा। इसके लिए पुलिस प्रशासन की ओर से यहां पर पुलिस कर्मी की तैनाती कर दी गई है। यहां पर अधिकतर यातायात व्यवस्था की समस्या बनी रहती है। आए दिन वाहन चालकों को भी भारी समस्या झेलनी पड़ती थी। जिसके चलते अब पुलिस प्रशासन ने क्षेत्र में बेहतर यातायात व्यवस्था बनाए रखने के लिए अब पुलिस कर्मी की तैनाती कर दी है। ताकि स्थानीय लोगों के साथ ही अन्य लोगों को भी सुविधा मिल सके। जानकारी के अनुसार खारसी के समीप शालूघाट चौक पर वाहनों की आवाजाही रहती है। खासकर ट्रकों की आवाजाही यहां पर रहती है। अधिकतर शालूघाट चौक पर जाम की स्थिति भी बनी रहती है। ट्रक चालकों की मनमानी का सामना भी कई बार वाहन चालकों को करना पड़ता था।

लेकिन अब यहां पर यातायात व्यवस्था सुचारू बनाए रखने के लिए पुलिस प्रशासन की ओर से पुलिस कर्मी की तैनात कर दी गई है। अब इस चौक पर पुलिस कर्मी पर यातायात व्यवस्था सुचारू बनाए रखने की जिम्मेदारी होगी। बता दें कि पुलिस प्रशासन की ओर से जिला भर में यातायात व्यवस्था बेहतर बनाए रखने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। जिला से होकर धर्मशाला के साथ ही कुल्लू-मनाली के लिए अधिकतर पर्यटकों की आवाजाही रहती है। कई बार बिगड़ैल वाहन चालकों के चलते पर्यटकों को भी समस्या झेलनी पड़ती है। लेकिन जिला पुलिस की ओर से यातायात व्यवस्था बेहतर बनाए रखने के लिए प्रयास किए हैं। बहरहाल, पुलिस प्रशासन की ओर से चलाए गए इस अभियान को सफल बनाने के लिए प्रयास जारी हैं। उधर, इस बारे में एएसपी अमित शर्मा ने बताया कि शालूघाट चौक पर पुलिस कर्मी की तैनाती की गई है। उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मी को यातायात व्यवस्था बनाए रखने के लिए अलावा अन्य गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

कार्यालय संवाददाता- बिलासपुर राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बिलासपुर में अब वसुंधरा राजन प्राचार्या होंगी। नवनियुक्त कालेज प्राचार्य ने शुक्रवार को ज्वाइन कर लिया है। इससे पहले नवनियुक्त प्राचार्य घुमारवीं कालेज में बतौर प्राचार्य तैनात थी, लेकिन अब इन्हें बिलासपुर कालेज में तैनाती मिली है। वसुंधरा राजन इससे पहले घुमारवीं कालेज में अपनी सेवाएं दे चुकी हैं। इसके अलावा जुखाला व नयनादेवी कालेज में अपनी सेवाएं दे चुकी हैं। विभिन्न कालेजों में बेहतर सेवाएं देने के बाद अब इन्हें बिलासपुर कालेज में बतौर प्राचार्य तैनाती मिली है। इससे पहले यहां पर बतौर प्रवक्ता भी नवनियुक्त प्राचार्य बिलासपुर कालेज में तैनात रही हैं। उधर, बता दें कि शुक्रवार को ज्वाइन करने के बाद प्राचार्या वसुंधरा राजन ने कालेज कर्मचारियों के साथ बैठक भी की।

पुलिस विभाग की मासिक अपराध बैठक के दौरान प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

कार्यालय संवाददाता- बिलासपुर शहर में बेहतर यातायात व्यवस्था बनाए रखने के लिए अब होमगाड्र्स जवानों को सम्मानित किया गया है। इन होमगार्ड जवानों को प्रशस्ति पत्र के अलावा नकद इनाम राशि भी दी गई है। हालांकि इससे पहले भी पुलिस प्रशासन द्वारा बेहतर यातायात व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस कर्मी भी अपनी अहम भूमिका निभा चुके हैं। वहीं, कई पुलिस कर्मियों को भी सम्मानित किया गया है, लेकिन होमगार्ड जवानों को 500 रुपए की इनाम राशि भी दी गई है। पुलिस विभाग की मासिक अपराध बैठक शुक्रवार को आयोजित हुई। इसकी अध्यक्षता पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने की। इस दौरान एसपी दिवाकर शर्मा ने सभी थाना, चौकी प्रभारियों को निर्देश दिए कि नशे के कारोबारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए। इसके अलावा अन्य उन लोगों पर भी सख्त कार्रवाई की जाए जो लोग नियमों की अवहेलना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नियमों की अवहेलना सहन नहीं की जाए।

उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से कोरोना महामारी को लेकर बनाए गए नियमों को लेकर भी उचित कार्रवाई की जाए। जो लोग नियमों की अवहेलना कर रहे हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि एचएचजी ताहिर खान, एचएचजी कुलदीप, एचएचजी विकास, एचएचजी पवन, एचएचजी स्वर्ण सिंह, एचएचजी मनोज कुमार, एचएचजी विष्णू राम, एचएचजी बचन सिंह, एचएचजी कुलदीप को सम्मानित किया गया। उधर, इस बारे में पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने बताया कि शहर में तैनात यातायात ड्यूटी कर रहे गृह रक्षकों को सम्मानित किया गया है। उन्होंने कहा कि इन सम्मानित जवानों को 500 रुपए की इनाम राशि भी दी गई है। ये जवान शहर में यातायात व्यवस्था बनाए रखने में अपनी अहम भूमिका निभा रहे हैं।

घुमारवंी में मंत्री राजेंद्र गर्ग ने 4.14 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित उठाऊ पेयजल योजना का किया लोकार्पण

दिव्य हिमाचल ब्यूरो-बिलासपुर खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजेंद्र गर्ग ने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत विभिन्न विकासात्मक योजनाओं के उद्घाटन एवं शिलान्यास किए जिसमें लगभग 4.14 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित भराड़ी, लडयाणी, सुमाडी, चकराणा, बरोटा, मिहाड़ा उठाऊ पेयजल योजना के संवर्धन का उद्घाटन किया। इस योजना से गांव मिहाड़ा, दलोटे, डुमेहर, बरोटा, डुगबाण, लहोट, सुमाडी, लडयाणी इत्यादि गांवों के लगभग आठ हजार लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर नल से जल उपलब्ध करवाने हेतु घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र की विभिन्न पेयजल योजनाओं के स्त्रोत स्तरीय संवर्धन की पटिट्का का अनावरण किया। इस योजना का शिलान्यास मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा किया गया है। लगभग 53 करोड़ 32 लाख रुपए की लागत से बन रही इस योजना से लगभग 55 हजार 500 लोग लाभान्वित होंगे। इस योजना का 35 प्रतिशत कार्य पूर्ण कर लिया गया है। उन्होंने मिहाडा में लगभग 1.5 लाख रुपए से निर्मित सामुदायिक शेड का लोकार्पण किया। उन्होंने 30 लाख रुपए की लागत से संपर्क मार्ग मिहाडा खिल्ल, दलोटे, कुवादड़े, लोहट सड़क को जीप योग्य से मोटर योग्य करने के कार्य का शुभारंभ किया। उन्होंने राजकीय मिडल पाठशाला मिहाडा के संपर्क मार्ग का भी शुभारंभ किया तथा राजकीय प्राथमिक पाठशाला मिहाडा प्री-नर्सरी कक्षा के कमरे का शुभारंभ किया जिसमें प्री-नर्सरी के बच्चों के लिए आधुनिक तकनीक से क्लास रूम बनाया गया है जिसमें खेल-खेल पढ़ाई के लिए विभिन्न खिलौने और उपकरण रखे गए है। इस अवसर पर मिहाडा में जन सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में विकास के कार्यों ने निरंतर रफ्तार पकड़ी है। उन्होंने कहा कि घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में जल जीवन मिशन के तहत 85 करोड़ रुपए पेयजल की विभिन्न योजनाओं पर व्यय किए जा रहे है। उन्होंने बताया कि चैकणा धार के लिए 20 करोड़ रुपए की अलग से स्कीम बनाई जा रही है जिसका कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा हैए शीघ्र ही यह योजना जनता को समर्पित कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रयास किया जा रहा है कि विधानसभा क्षेत्र में किसी भी प्रकार की पानी की कमी न रहे। उन्होंने लोगों से भी आह्वान किया कि यदि पानी की दिक्कत हो तो संबंधित विभाग से संपर्क करें और उनकी समस्या का अधिकारियों द्वारा शीघ्र समाधान सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि पानी को व्यर्थ न गवाए, जरूरत के हिसाब से ही खर्च करें ताकि पानी की किल्लत न हो। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल विधानसभा क्षेत्र में 110 संपर्क सड़कों का निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि कंदरौर से डंगार तक बेहतर सड़क मार्ग बनाया गया है।

दधोल से लदरौर सड़क पर 82 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे है जिसका कार्य भी युद्ध स्तर पर चल रहा है। लगभग 13 लाख रुपए की लागत से बन रही बाड़ा दा घाट से भयोल सड़क का कार्य तथा दस करोड़ रुपए की लागत से बन रही घंडालवी से लदरौर बाया हटवाड़ सड़क पांच करोड़ रुपए की लागत से बन रही रोहल खड्ड से घंडालवी बाया लैहड़ी सरेल सड़क के उन्नयन का कार्य भी प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि नई स्कीम बरोटा, डुमेहर, उंडा, मिहाडा सड़क की डीपीआर भी तैयार कर ली गई है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में कम वोल्टेज की समस्या से निजात दिलाने के लिए एचटी तथा एलटी लाइनों पर लगभग नौ लाख रुपए खर्च किए गए है और पुरानी लकड़ी के खंबे बदले गए है। डुघान में 6.50 लाख रुपए की लागत से 25 केवी का ट्रांसफार्मर लगाया गया है। उन्होंने बताया कि घंडालवी में सिंगल फेस एलटी लाइन को थ्री फेस किया गया है। उन्होंने महिला मंडल को तीन लाख रुपए तथा स्थानीय स्कूल के सांस्कृतिक दल के बच्चों को दस हजार रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने क्षेत्र की मांगों को स्वीकृत किया और सभी मांगों को चरणबद्ध तरीके से प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर मंडलाध्यक्ष सुरेश ठाकुर, महामंत्री राजेश ठाकुर, बीडीसी अध्यक्ष रमेश ठाकुर, महिला मोर्चा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य शीतल भारद्वाज, बीडीसी सदस्य चमन शर्मा, ग्राम पंचायत लैहड़ी सरेल प्रधान बीना ठाकुर, गतवाड प्रधान नबल बजाज, गाहर प्रधान तारा चंद, मरहाणा प्रधान जगत राम, भराड़ी प्रधान प्यारे लाल शर्मा, बीडीसी सदस्य चमन शर्मा के अतिरिक्त विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

डीसी रोहित जम्वाल ने प्रोजेक्ट को लेकर अफसरों से की चर्चा दिव्य हिमाचल ब्यूरो—बिलासपुर विश्वविख्यात शक्तिपीठ श्रीनयानादेवी में ग्लास ब्रिज निर्माण को लेकर योजना पर काम शुरू हो गया है। इसके अलावा पैराग्लाइडिंग के रोमांच के लिए भी कवायद शुरू हुई है। अपंग श्रद्धालुओं के लिए मंदिर तक लिफ्ट सुविधा शुरू होगी। मंदिर न्यास आयुक्त एवं जिलाधीश रोहित जम्वाल ने शुक्रवार को श्रीनयनादेवी में दल-बल सहित साइटों का निरीक्षण किया। इस मौके पर रोप-वे कारपोरेशन एमडी अजय कुमार भी मौजूद रहे। साथ में पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन के पदाधिकारी मनोज शर्मा भी मौजूद रहे, जबकि मंदिर न्यास के अध्यक्ष सुभाष गौतम और मंदिर अधिकारी हुसन चंद चौधरी मौके पर मौजूद रहे।

जिलाधीश रोहित जमवाल ने से बातचीत करते हुए कहा कि विश्व विख्यात शक्तिपीठ श्री नयना देवी जी में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए यह योजनाएं कार्यान्वित की जा रही हंै। उन्होंने कहा कि पिछले महीने मंदिर न्यास की बैठक में श्री नैना देवी को पर्यटन के मानचित्र पर उभारने के लिए इन योजनाओं पर विस्तृत चर्चा की गई थी और आज विभिन्न साइटों का निरीक्षण किया गया है।

मोबाइल पर किया दुव्र्यवहार, डीसी रोहित जम्वाल ने एसडीएम को सौंपा जांच का जिम्मा

अश्वनी पंडित—बिलासपुर शिक्षा विभाग का एक कर्मचारी मोबाइल फोन पर बिलासपुर सदर के विधायक सुभाष ठाकुर के साथ उलझ गया। बताया जा रहा है कि उक्त कर्मचारी नशे की हालत में था और बात करते करते दुव्र्यवहार पर उतर आया। यही नहीं, कर्मचारी ने विधायक के फोन की रिकार्डिंग भी की है। इस पर कड़ा संज्ञान लेते हुए विधायक ने तत्काल जिलाधीश से बात की और उन्हें घटनाक्रम से अवगत करवाया जिस पर जिलाधीश ने जांच के लिए एसडीएम को निर्देश दिए। विधायक अधिकारियों के साथ शिक्षा विभाग के कार्यालय पहुंचे जहां उक्त कर्मचारी मौजूद नहीं पाया गया। डिप्टी डायरेक्टर को भी मामले से अवगत करवाया गया और विधायक को अवगत करवाया गया कि उक्त कर्मी अवकाश पर है। विधायक जब वहां से लौटने लगे तो एक और कर्मचारी नशे की हालत में मिल गया।

इस पर तल्ख विधायक ने जांच कर ऐसे कर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए निर्देश दिए। जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को विधायक सुभाष ठाकुर अपने आवास पर जनता के साथ मिल रहे थे और उनकी समस्याएं सुन रहे थे। इसी बीच शिक्षा विभाग का एक चतुर्थ श्रेणी कर्मी अपने कार्य के लिए विधायक के आवास पर पहुंचा। इसकी जानकारी मिलने पर शिक्षा विभाग के कर्मचारी ने विधायक के मोबाइल पर फोन कर दिया और कहने लगा कि चतुर्थ श्रेणी कर्मी आपके आवास पर क्यों आया है जिस पर विधायक ने कहा कि यहां कोई भी आ सकता है। इस पर कर्मचारी उग्र हो गया और गुस्से में आकर विधायक से दुव्र्यवहार करने लगा। हालांकि विधायक ने इसे अनसुना करते हुए फोन काट दिया। मगर बाद में फिर उस कर्मचारी ने विधायक के मोबाइल पर फोन कर दिया और बदतमीजी करने लगा। यही नहीं, उस कर्मी ने विधायक के फोन की रिकार्डिंग भी कर ली जिसका प्रमाण भी विधायक को मिल चुका है। इस पर कड़ा संज्ञान लेते हुए विधायक ने जिलाधीश रोहित जम्वाल से फोन पर बात की और उन्हें घटनाक्रम से अवगत करवाया। नयनादेवी दौरे पर होने के चलते जिलाधीश ने एसडीएम सदर को जांच के लिए आदेश दिए।

विधायक प्रशासनिक अधिकारियों के साथ शिक्षा विभाग बिलासपुर के कार्यालय पहुंचे और उक्त कर्मी से बात करनी चाही, लेकिन वे कार्यालय में उपस्थित नहीं पाए गए। पूछने पर पता चला कि कर्मचारी अवकाश पर है और उसने अपने कमरे में ताला लगा रखा था। घटनाक्रम की जानकारी डिप्टी डायरेक्टर को भी दी गई। विधायक ने डिप्टी डायरेक्टर को इस तरह के कर्मियों के खिलाफ सख्त रवैया अपनाते हुए कार्रवाई करने के लिए निर्देश दिए हैं। इसके बाद विधायक जिलाधीश कार्यालय पहुंचे और अधिकारियों के साथ बैठक की जिसमें पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा, एडीसी तोरूल रविश, एसी टू डीसी सिद्धार्थ आचार्य और एसडीएम सदर रामेश्वर दास सहित बीजेपी के जिला महामंत्री आशीष ढिल्लो, भाजपा नेता विनोद ठाकुर व हर्ष मेहता इत्यादि भी मौजूद रहे। इसमें विधायक शिक्षा विभाग के कर्मी द्वारा किए गए दुव्र्यवहार पर रोष जताया और कहा कि इस तरह के कर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। उधर, इस संदर्भ में बात करने पर सदर बिलासपुर के एसडीएम रामेश्वर दास ने बताया कि इस मामले में जांच की जा रही है और दोषी कर्मचारी के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस तरह के लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। (एचडीएम)

घुमारवीं में जमा दो की परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने पर किया सम्मानित

स्टाफ रिपोर्टर- घुमारवीं राजकीय वरिष्ठ (बाल) माध्यमिक विद्यालय घुमारवीं ने शुक्रवार को मार्च 2020 में जमा दो की बोर्ड परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन करने वाले 23 छात्र-छात्राओं को मैरिट सर्टिफिकेट देकर पुरस्कृत किया। जमा दो की बोर्ड परीक्षा में अमन, विपिन, साहिल, आकृति, अभय, अक्षांत, अनुज, आयुष, शिवम, शोम्य, तुषार, अदिति, जाहन्वी, शिवांकुर, अभिषेक, अजय, अमित, अंकित, हंसराज, रोहित, शिवांक, सौरभ व उत्तम सिंह को बेहतर प्रदर्शन करने पर स्कूल प्रधानाचार्य यशपाल पटियाल ने मैरिट सर्टिफिकेट देकर पुरस्कृत किया और इनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। इस मौके पर अध्यापक संजीव धर्माणी, प्रवीण सिंह ठाकुर, राजीव, नीलम, अंजना, बंदना, लता, अनुप, उपस्थित रहे।