Tuesday, April 13, 2021 10:01 AM

हैल्थ के लिए 3016 करोड़,  चंबा-मंडी में शुरू होगा निमोनिया स्क्रीनिंग प्रोग्राम

खेमराज शर्मा—शिमला

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि सभी सुखी हों, सभी रोग मुक्त रहें, सभी का जीवन मंगलमय हो, कोई भी दुख का भागी न बने। स्वास्थ्य सेवाओं के लिए 2021-22 में 3016 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। पिछले बजट के मुकाबले इस बजट में 314 करोड़ रुपए बढ़ाए गए हैं। कोविड के चलते सरकार ने स्वास्थ्य सुविधाओं को और सुदृढ़ बनाने के लिए इस बार बजट को बढ़ाया गया है।

 इसके अलावा नई भर्तियों का प्रावधान भी इस बजट में किया गया है। स्वास्थ्य विभाग में विभिन्न श्रेणियों के 4000 पद भरे जाएंगे। इस बार के बजट में 11.63 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। सीएम ने बजट में कहा कि आयुष्मान भारत, हिम केयर, मुख्यमंत्री चिकित्सा सहायता कोष, निःशुल्क दवाइयां, सहारा योजना, सम्मान योजना, निक्षय पोषण योजना समेत अन्य कल्याणकारी योजनाओं पर प्रदेश सरकार 2021-22 में 250 करोड़ रुपए से अधिक व्यय किए जाएंगे। नेशनल फेमली हैल्थ सर्वे-पांच की रिपोर्ट पर सरकार गंभीरता से विचार कर रही है। मुख्यमंत्री ने बजट में बताया कि तीन वर्षों में स्वास्थ्य क्षेत्र के टेरेटरी सेक्टर में अभूतपूर्व विस्तार किया गया है। वहीं पांच वर्ष से कम आयु वर्ग में निमोनिया मृत्यु का एक मुख्य कारण है। सार्वभौमिक प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल के अंतर्गत स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्रों में ऑक्सीमीटर के माध्यम से निमोनिया की स्क्रीनिंग की जाएगी। चंबा और मंडी में प्रथम चरण में ये प्रोग्राम शुरू होगा। (एचडीएम)