Sunday, March 07, 2021 05:24 PM

42885 पुरुष-42481 महिलाओं ने डाले वोट

आजाद प्रत्याशी विभा सिंह ने जीती जिला परिषद की सीट, टक्कर तक पहुंच नहीं पाईं बड़ी पार्टियां 

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — कुल्लू

जिला परिषद के धाउगी वार्ड में प्रमुख पार्टियां भाजपा व कांग्रेस चित हो गई हैं। यहां पर आजाद प्रत्याशी ने भारी मतों से जीत दर्ज कर ली है। हालांकि इस वार्ड में भाजपा व कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों को जीत दिलाने के लिए एक्टिव प्रत्याशियों को चुनावी दंगल में उतारा था, लेकिन दोनों दलों के प्रत्याशी चुनावी दंगल से बाहर हो गए हैं। दिलचस्प बात तो यहां यह है कि कांग्रेस व भाजपा समर्थित प्रत्याशी टक्कर तक पहुंच नहीं पाए। इस वार्ड में दो आजाद प्रत्याशियों के बीच मुकाबला हुआ, जिसमें राज परिवार की छोटी बहु विभा सिंह भारी मतों से जीती हैं। विभा सिंह भारी मतों से विजयी घोषित हुईं, जबकि टक्कर में आई आजाद प्रत्याशी कविता को हार का सामना करना पड़ा। इस वार्ड पर तीसरे नंबर पर भाजपा समर्थित कला देवी, लेकिन कला देवी टक्कर तक नहीं पहुंच पाई। यह भाजपा के लिए आने वाले विधानसभा चुनावों के लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं होगा। बंजार के विधायक भी यहां पर अपने प्रत्याशी को जीताने में काफी पीछे रह गए हैं। कला देवी को 3,776 मत पड़े, जबकि चौथे नंबर पर रही कांग्रेस की प्रदेश प्रवक्ता इंदू पटियाल को 1,137 मतों से संतोष करना पड़ा। कांग्रेस यहां पर अपनी साख नहीं बचा पाई। कांग्रेस ने प्रदेश प्रवक्ता को उतार कर कहीं न कहीं भारी मात खा ली। बता दें कि इस वार्ड में कुल सात प्रत्याशी चुनावी दंगल में उतरी थीं। यह वार्ड महिला आरक्षित था। विभा सिंह, कविता, कला देवी, इंदु पटियाल के साथ  आजाद तौर पर निर्मला देवी, स्नेह तला, डोलमा भी उतरी थीं। निर्मला देवी को 1232 वोट, स्नेहलता को 2246 वोट और डोलमा को 477 वोट पड़े हैं। यही नहीं, 64 मतदाताओं ने नोटा पर अपना मत देकर सभी प्रत्याशियों को नकार भी दिया है। यहां पर इस वार्ड में  कुल मतदाता 21,192 थे, जिनमें 20,920 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। विभा सिंह राजपरिवार की पहली महिला हैं, जो इस बार जिला परिषद चुनाव के अखाड़े में उतरी थीं और दंगल जीत कर राजपरिवार के राजनीति को और मजबूत किया है। विभा सिंह निवर्तमान जिला परिषद सदस्य हितेश्वर सिंह की धर्मपत्नी हैं। हितेश्वर सिंह इस बार रैला वार्ड महिला आरक्षित होने पर चुनाव नहीं लड़ पाए। ऐसे में  धाउगी वार्ड भी महिला आरक्षित हुआ था। इसलिए उन्होंने अपने समर्थकों की राय पर  अपनी पत्नी को इस बार चुनावी मैदान में उतारा। गौर रहे कि बीते दिनों नगर परिषद के चुनाव में पूर्व सांसद महेश्वर सिंह बड़े बेटे दानवेंद्र सिंह ने भी नगर परिषद में वार्ड-चार से विजयी हासिल की। एक बार फिर लंबे समय के बाद घर में एक साथ जीत की खुशी का माहौल तो बना है, लेकिन बीते दिन परिवार में दादी के निधन के चलते अभी महज एक दिन का समय निकला है। इसी बीच पौत्र बहु की भी भारी मतों से जीत की खुशी आने पर भी घर में कभी खुशी कभी गम का मौहल बना हुआ है, वहीं चायल वार्ड से कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बुद्धि सिंह ठाकुर भी चुनाव हार गए हैं। यही नहीं, मौहल वार्ड  से कांग्रेस समर्थित जिला परिषद के प्रत्याशी एवं पूर्व में जिला परिषद अध्यक्ष रहे सेस राम चौधरी भी जिला परिषद का चुनाव हार गए।

कार्यालय संवाददाता — कुल्लू

पंचायत राज चुनाव के अंतिम चरण में सबसे ज्यादा मत  पूरे जिलाभर में पुरुष मतदाताओं ने डाले। वहीं, महिला मतदाता भी मतबूत लोकतंत्र के लिए मतदान करने में पीछे नहीं रहीं। बता दें कि तीसरे चरण में 42885 पुरुष मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया, जबकि 42281 महिला मतदाताओं ने पंचायत सरकार बनाने के लिए अपना मतदान किया। लिहाजा, अंतिम चरण में कुल 101694 मतदाताओं में से 85166 मतदाताओं ने 75 पंचायतों के चुनाव में अपने मत डाले।

आनी विकास खंड की बात करें तो यहां पर 6626 पुरुष और 6615 महिला मतदाताओं ने वोट डाले। कुल 13241 मतदाताओं ने मतदान किया। विकास खंड बंजार की बात करें तो यहां पर 7042 पुरुष और 6914 महिला मतदाताओं ने मतदान किया। यहां पर कुल 13956 मतदाताओं ने मतदान किया, वहीं कुल्लू विकास खंड में 13524 पुरुष और 13358 महिला मतदाताओं ने अपने वोट डाले। यानी यहां पर 26882 कुल मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इसके अलावा नगर खंड में 9516 पुरुष और 9455 महिला मतदाताओं ने मतदान किया।

 यहां पर 18971 कुल मतदाताओं ने वोट डाले हैं। निरमंड की बात करें तो 7177 पुरुष और 5939 महिला मतदाताओं ने मतदान किया। यहां पर कुल 12116 मतदाताओं ने मतदान किया। आनी में 84.93, बंजार में 87.66, कुल्लू में 81.2, नग्गर में 83.61 और निरमंड में 83.64 मतदाताओं ने मतदान किया। बता दें कि तीसरे चरण के चुनाव में भी मतदाताओं ने अपने-अपने प्रत्याशियों को जीताने के लिए खूब उत्साह और जोश दिखा। काफी संख्या में बुजुर्ग और युवा मतदाता भी मतदान केंद्रों में पहुंचे और अपने वोट डाले। प्रधान, उपप्रधान और वार्ड सदस्य बनने के बाद गांवों-गांवों में जश्न का माहौल शुरू हो गया। अंतिम चरण में जिला कुल्लू की 24, नग्गर की 15, निरमंड की 11, बंजार की 13 और आनी की 12 पंचायतों के चुनाव हुए। लिहाजा, सभी पंचायतों का चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुआ।