Tuesday, November 12, 2019 09:48 AM

50 कार्यकर्ताओं ने धारण किया त्रिशुल

जालपा माता मंदिर में विश्व हिंदू परिषद के कार्यक्रत में राजकुमार ने की बतौर मुख्यातिथि शिरकत

डलहौजी -विहिप की चंबा जिला इकाई की ओर से देवीदेहरा के जालपा माता मंदिर में संगठन के स्थापना दिवस मौके पर परिषद के अग्रणी संगठन बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का त्रिशूल दीक्षा कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के जिला संघ चालक राजकुमार ठाकुर ने बतौर मुख्यातिथि उपस्थिति दर्ज करवाई,जबकि विहिप के प्रांत उपाध्यक्ष डा. केशव वर्मा ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। कार्यक्रम में विहिप के प्रांत संगठन मंत्री नीरज दनोरिया मुख्य वक्ता के रूप में व दशनामी अखाड़ा चंबा के संतों ने विशेष रूप से उपस्थिति दर्ज करवाई। विहिप के जिला अध्यक्ष चतर सेन शर्मा, विहिप के जिला मंत्री विनोद शर्मा व अमरजीत अरोड़ा ने अतिथियों को भगवा अंगवस्त्र भेंटकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का शुभारंभ सुंदर कांड के पाठ से हुआ। इसके उपरांत एकल विद्यालय व स्थानीय महिलाओं द्वारा भजन-कीर्तन किया गया। इसके बाद बजरंग दल के 50 कार्यकर्ताओं की पूर्ण विधि विधान से त्रिशूल दीक्षा करवा उन्हें त्रिशूल धारण करवाया गया। मुख्य वक्ता नीरज दनोरिया ने हिंदू धर्म के गौरवमयी इतिहास पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि सिख गुरुओं, वीर शिवाजी सहित हिंदू धर्म के महान स्पूतों ने अपना व अपने परिवारों का बलिदान देकर हिंदू धर्म की रक्षा की है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1964 में विहिप का गठन हिंदू समाज को जागृत करने व सशक्त करने के उद्देश्य से ही किया गया था।  विहिप के तत्त्वावधान में वर्तमान में कई एकल विद्यालय चलाए जा रहे हैं, जहां कि बच्चों को मूल्य आधारित शिक्षा प्रदान की जा रही है। इस मौके पर अन्य वक्ताओं ने भी विहिप के गठन, उद्देश्य व लक्ष्य के बारे में विस्तार से जानकारी की। कार्यक्रम में सतपाल शर्मा, देसराज, कुंदन लाल शर्मा, हेमचंद शर्मा, रमेश शास्त्री, देसराज, लेखराज व रमेश जसरोटिया आदि मौजूद रहे।