Friday, November 27, 2020 05:35 AM

500 बेसहारा पशुओं को मिलेगा सहारा, बिलासपुर के झंडूता स्थित जांगला में बनेगा गो अभयारण्य

झंडूता विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत जांगला में गो अभयारण्य बनेगा, जिसे गैर सरकारी संस्था द्वारा संचालित किया जाएगा। इसमें गो वंश को आश्रय मिलेगा। इसके लिए तमाम औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं। इस गो अभयारण्य के बनने से करीब 500 गो वंश को आश्रय मिलेगा। हालांकि अभी भी सड़कों पर गो वंश घूम रहा है, जिसके चलते इस समस्या के स्थायी समाधान के लिए जिला में गो सदन संचालित किए जा रहे हैं। इसमें अभी तक 958 गो वंश को आश्रय मिला हुआ है। अभी तक 800 गो वंश सड़कों पर है। वहीं, अन्य गो वंश को स्थायी आश्रय देने के लिए गो सदन और गो अभयारण्य बनाए जा रहे हैं, ताकि सड़कों पर घूम रहे गोवंश को आश्रय मिल सके। जानकारी के अनुसार झंडूता विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत जांगला में गो अभयारण्य के लिए 81.9 बीघा जमीन चिन्हित की गई है। इसी कड़ी के तहत झंडूता विधानसभा क्षेत्र के विधायक जेआर कटवाल, एसडीएम झंडूता विकास शर्मा, बीडीओ झंडूता धर्मपाल, उपनिदेशक पशुपालन विभाग बिलासपुर लाल गोपाल, संयुक्त निदेशक विनोद कूंदी, आरओ झंडूता सहित अन्य ने निरीक्षण किया।

इस दौरान विभिन्न मसलों पर चर्चा की गई। विधायक जेआर कटवाल द्वारा विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि गो अभयारण्य को तमाम औपचारिकताओं को जल्द से जल्द पूरा किया जाए, ताकि गो वंश को स्थायी आश्रय मिल सके। उन्होंने कहा कि गो सदन की क्षमता बढ़ाई जाए। मनरेगा के तहत कार्य करवाए जाएं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा गो वंश को लेकर बेहतर कदम उठाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणा को लेकर उचित कदम उठाए जाएं, ताकि सड़कों पर घूम रहे गो वंश को आश्रय मिल सके। वहीं लाल गोपाल, उप निदेशक पशु पालन विभाग बिलासपुर ने बताया कि झंडूता विधायक जेआर कटवाल की अगवाई में गो अभयारण्य का निरीक्षण किया गया है। गो अभयारण्य का कार्य जल्द पूरा करने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं। गो अभयारण्य का संचालन एनजीओ द्वारा किया जाएगा।

The post 500 बेसहारा पशुओं को मिलेगा सहारा, बिलासपुर के झंडूता स्थित जांगला में बनेगा गो अभयारण्य appeared first on Divya Himachal.