Monday, October 18, 2021 04:52 PM

हर गोवंश की देखभाल को हर महीने 500 रुपए

गो सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा बोले, गोशालाओं के विस्तार के साथ सुविधाएं बढ़ाने को दे रहे बजट

टीम-बीबीएन,नालागढ़ हिमाचल सरकार समूचे प्रदेश में गोवंश को आश्रय देने के लिए वचनबद्ध है तथा इसी कड़ी में प्रतिमाह पांच सौ रुपए प्रत्येक गोवंश को गोशालाओं के माध्यम से दिए जा रहे हैं। हिमाचल प्रदेश गो सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा ने बताया कि जिला सोलन की 29 गोशालाओं को प्रतिमाह 22.5 लाख रुपए की सहायता राशि हिमाचल प्रदेश गो सेवा आयोग के माध्यम से प्रदान की जा रही है। यह जानकारी उन्होंने गोवंश को आश्रय व सहारा देने के उद्देश्य से आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होंने बताया कि नालागढ़ उपमंडल में कुल 20 गोशालाएं तथा एक गो अभ्यारण है जहां पर कुल 4045 गोवंश को संरक्षण प्रदान किया गया है।

प्रदेश सरकार द्वारा जनवरी 2022 तक पूरे प्रदेश को खुला गोवंश मुक्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिस को पूरा करने के लिए प्रदेश में स्थापित गोशालाओं का न केवल विस्तारीकरण किया जा रहा है बल्कि मूलभूत सुविधाओं के अलावा उन्हें ढांचागत विकास के लिए भी हरसंभव वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है, ताकि वहां पर गोवंश को रखने की क्षमता में इजाफा किया जा सके। नालागढ़ ट्रक यूनियन के प्रधान चौधरी विद्या रतन ने नालागढ़ और बद्दी के मध्य एक बड़े पशु अस्पताल स्थापित करने की मांग रखी, जहां पर पशुओं के लिए उच्च स्तरीय उपचार सुविधा उपलब्ध हो सके।

अन्य गोशाला संचालकों ने गोशालाओं के लिए अतिरिक्त भूमि के अलावा पशुपालन विभाग में फार्मेसिस्ट के रिक्त पदों को भरने सहित विभिन्न समस्याओं व मांगों पर अपने अपने विचार रखे। इस अवसर पर उपनिदेशक पशुपालन विभाग डाक्टर बीबी गुप्ता, तहसीलदार नालागढ़ ऋषभ शर्मा, पशुपालन विभाग के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डाक्टर राकेश भट्टी, डाक्टर संतोष कुमार, डा. एसएस शेखों, डा. शंकर दास, डाक्टर दीक्षा चड्डा, डाक्टर संजीव त्यागी, नगर परिषद बद्दी के कार्यकारी अधिकारी अजमेर सिंह ठाकुर, क्षेत्र की विभिन्न गोशालाओं के संचालक व उनके प्रतिनिधि गण तथा अन्य अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित थे।