Friday, October 23, 2020 05:06 AM

82 दिन बाद मिला कैशियर का शव

एचआरटीसी के लापता कैशियर नरेंद्र कुमार का शव करीब 82 दिन के बाद चमेरा एक के जलाशय से बरामद हुआ है। पुलिस ने मृतक के शव का सिविल अस्पताल डलहौजी में पोस्टमार्टम करवाने के उपरांत परिजनों के हवाले कर दिया है। दोपहर बाद मृतक के शव का रावी नदी के किनारे हिंदू रीति रिवाज के मुताबिक अंतिम संस्कार भी कर दिया गया है। एसपी चंबा एस अरूल कुमार ने खबर की पुष्टि की है। शुक्रवार शाम को पुलिस को सूचना मिली कि चमेरा-एक के जलाशय में तलेरू बोटिंग प्वाइंट के समीप एक शव तैर रहा है।

सूचना पाते ही चौहड़ा पुलिस चौकी प्रभारी नाजेंद्र धीमान की अगवाई में टीम ने मौके पर पहुंचकर लोगों के सहयोग से शव को जलाशय से बाहर निकाला। उन्होंने शव की पहचान करवाने के लिए जिला की विभिन्न पुलिस थाना व चौकियों में पिछले कुछ अरसे से लापता चल रहे लोगों की डिटेल खंगालने का आग्रह किया। इसी बीच चमेरा जलाशय में शव मिलने की सूचना मिलने पर लापता कैशियर नरेंद्र कुमार के परिजनों से भी संपर्क साधा गया। परिजनों ने मौके पर पहुंचकर हाथों की अगुंलियों की अंगूठियों व कलाई पर बंधे धागे से शव की पहचान लापता नरेंद्र कुमार के तौर पर की।

शव की पहचान होने के उपरांत शनिवार को सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर वारिसों को सौंप दिया। बताते चलें कि गत 29 जून को रिटायरमेंट से एक दिन पहले नरेंद्र कुमार ड्यूटी के दौरान दोपहर बाद रहस्यमय परिस्थितियों में लापता हो गया था। परिजनों व परिवहन निगम प्रबंधन ने अपने-अपने स्तर पर नरेंद्र कुमार की गुमशुदगी की रपट दर्ज करवाई थी। पुलिस व परिजन काफी समय तक नरेंद्र कुमार की तलाश करते रहे।

इसी बीच 82 दिन के बाद नरेंद्र कुमार का शव चमेरा- एक के जलाशय से बरामद हुआ है। उधर, एसपी चंबा एस अरूल कुमार ने बताया कि गत शाम चमेरा-एक के जलाशय से एचआरटीसी के लापता कैशियर नरेंद्र कुमार का शव मिला है। परिजनों ने शव की पहचान की है। उन्होंने बताया कि आरंभिक जांच के आधार पर इस संदर्भ में फिलहाल सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई अमल में लाई गई है।

The post 82 दिन बाद मिला कैशियर का शव appeared first on Divya Himachal.