Sunday, March 07, 2021 11:56 PM

86 पंचायतें ऊना में पंचायत चुनावों का श्रीगणेश आज

नगर संवाददाता-ऊना

एसडीएम ऊना डा. सुरेश जसवाल ने बताया कि कोरोना संक्रमण के नए मामले आने के चलते उपमंडल के तहत प्रेम नगर एमसी ऊना के वार्ड नंबर-एक में धर्मेंद्र कुमार के घर, एमसी ऊना के वार्ड नंबर-एक में जगमोहन लाल के घर, चलोला के वार्ड नंबर-चार में निशा पवाला के घर, नंगड़ा के वार्ड नंबर-पांच में कमलेश के घर व संतोषगढ़ के वार्ड नंबर-तीन में विनय कुमार के घर को कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। एसडीएम हरोली गौरव चौधरी ने बताया कि ग्राम पंचायत पोलियां बीत के वार्ड नंबर-छह में ममता के घर से रामपाल के घर को कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। उन्होंने बताया कि कंटेनमेंट जोन में अब कर्फ्यू में ढील नहीं दी जाएगी। उन्होंने बताया कि यह आदेश तुरंत प्रभाव से आगामी आदेशों तक जारी रहेंगे।

ये क्षेत्र हुए कंटेनमेंट जोन से बाहर

एसडीएम ऊना, डा. सुरेश जसवाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि उपमंडल के तहत भड़ोलियां खुर्द के वार्ड नंबर-चार में कर्ण शर्मा के घर, लोअर कोटला कलां के वार्ड नंबर-एक में कमल देव के घर, लोअर देहलां के वार्ड नंबर-सात में सविता देवी के घर, संतोषगढ़ के वार्ड नंबर-सात में कुमारी शिल्पा के घर, चड़तगढ़ के वार्ड नंबर-सात में मस्त राम के घर को कंटेनमेंट जोन की सूची से बाहर कर दिया गया है। एसडीएम हरोली गौरव चौधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि ग्राम पंचायत दुलैहड़ के वार्ड नंबर-पांच में राजेश कुमार के घर से चमन लाल के घर तक के क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन की सूची से बाहर कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इन क्षेत्रों में अब कर्फ्यू में ढील प्रदान की जाएगी, जबकि आगामी 14 दिनों की अवधि तक एक्टिव केस फाइंडिंग का कार्य जारी रहेगा।

नगर संवाददाता-ऊना

गद्दी समुदाय की बकरी चोरी मामलों को पुलिस प्राथमिकता के आधार पर छानबीन करें, क्योंकि उनकी आजीविका भेड़ व बकरी पालन से ही चलती है। यह बात उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने शनिवार को एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही। बैठक में पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ठाकुर, डीएफओ मृत्युंजय माधव, उप-निदेशक पशु पालन विभाग डा. जय सिंह सेन, सहायक निदेशक डा. सुरेश धीमान उपस्थित रहे।

उपायुक्त ने वन विभाग को गद्दी समुदाय के साथ बैठकें कर उन्हें जागरूक करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि रेंज अधिकारी जब भी गद्दी समुदाय को परमिट जारी करें, तो उसके पिछले पृष्ठ पर हेल्पलाइन नंबर प्रकाशित करें। हेल्पलाइन नंबर में नजदीकी पुलिस थानों तथा वन विभाग के कार्यालयों के नंबर प्रकाशित किए जाएंगे।

साथ ही परमिट की कॉपी पुलिस विभाग के साथ भी साझा की जाए। राघव शर्मा ने पशु पालन विभाग को भी पर्ची के पीछे इसी प्रकार से हेल्पलाइन नंबर प्रकाशित करने के निर्देश दिए। राघव शर्मा ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट में सुरक्षा के लिए हथियार दिए जाने का भी प्रावधान हैं। ऐसे में सरकार से अनुरोध किया जाएगा कि गद्दी समुदाय को हथियार रखने के लाइसेंस मिले, ताकि वह अपने पशु धन की सुरक्षा सुनिश्चित कर सकें। इसके अलावा वूल फेडरेशन के माध्यम से गद्दी समुदाय की भेड़ों व बकरियों का बीमा कराने पर भी विचार किया जाए, ताकि उनके नुकसान की भरपाई की जा सके।

सफाई व्यवस्था खराब होने से श्रद्धालुओं में रोष, मंदिर को नहीं मिल रहे सेवादार

स्टाफ रिपोर्टर-चिंतपूर्णी

सुप्रसिद्ध शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर में पिछले कुछ दिनों से सफाई व्यवस्था का बुरा हाल रह रहा है। यहां चिंतपूर्णी मंदिर परिसर में रूटीन में माता रानी की चरण पादुका से लेकर गर्भ गृह के आसपास व मंदिर परिसर के भीतर की सफाई व्यवस्था ठीक नहीं रह रही है। जिसको लेकर यहां आने वाले श्रद्धालुओं में भी काफी रोष है। एक तरफ तो चिंतपूर्णी बाजार की सफाई व्यवस्था पिछले काफी समय से चुस्त दुरस्त बनी हुई है, तो वही मंदिर परिसर के अंदर सफाई व्यवस्था बिगड़ती नजर आ रही है। जिसकी मंदिर प्रशासन कोई सुध लेता नजर नहीं आ रहा है। मंदिर में प्रवेश करने से पहले ही जगह जगह लिफाफे पडे़ होते हैं।

यही नहीं कई बार मंदिर परिसर के फर्श पर जगह जगह पडे़ फूल भी श्रद्धालुओं के पैरों के नीचे आते है। जब मंदिर ट्रस्ट के कर्मचारियों से इस बारे पूछा जाता है, तो वे सेवादारों की कमी का होना बिगड़ती सफाई व्यवस्था का कारण बताते हैं। देखने वाली बात ये हर की एक तरफ करोड़ों की आमदनी वाला चिंतपूर्णी मंदिर जहां हर साल करोड़ों का चढ़ावा मंदिर न्यास को प्राप्त होता है। वहीं, मंदिर में बिना स्टाफ व सेवादारों की कमी के चलते यहां व्यवस्था बिगड़ती हुई नजर आती है। एक तरफ जहां युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है, वहीं मंदिर ट्रस्ट में खाली पडे़ पद सरकार द्वारा न भरने के कारण सीधा सीधा बेरोजगारों के पेट पर लात मारने जैसा काम है। वहीं लोगों ने डीसी ऊना राघव शर्मा से चिंतपूर्णी मंदिर में सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाने को लेकर उचित कदम उठाने की मांग की है। उधर, मंदिर अधिकारी अभिषेक भास्कर ने बताया कि ये मामला उनके ध्यान में अभी आया है। अगर मंदिर परिसर में सफाई व्यवस्था ठीक नहीं रह रही है, तो इस बारे संज्ञान लिया जाएगा।

स्टाफ रिपोर्टर- अंब

मुबारिकपुर-चिंतपूर्णी हाई-वे पर घेवट बेहड़ में हुई सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई है और एक गंभीर रूप से जख्मी हुआ है। मौत का शिकार हुए व्यक्ति की पहचान संजय कुमार (27) पुत्र विक्रांत निवासी बल्दर, नगरोटा बगवां (कांगड़ा) के रूप में हुई है और सड़क हादसे में पंकज कुमार (20) पुत्र हंस राज निवासी अमरा, डाडासीबा (कांगड़ा) गंभीर रूप से जख्मी हुआ है। अंब पुलिस ने मामला दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। शुक्रवार देर सायं मुबारिकपुर-चिंतपूर्णी हाई-वे पर घेवट बेहड़ में भरवाईं से मुबारिकपुर की तरफ आ रही एक तेज रफ्तार कार की सामने से आ रही बाइक से टक्कर हो गई।

इस सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से जख्मी हुए बाइक सवारों को सिविल अस्पताल अंब पहुंचाया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को डाक्टर ने पीजीआई रैफर कर दिया, लेकिन एक की रास्ते में ही मौत हो गई। डीएसपी अंब सृष्टि पांडेय का कहना है कि पुलिस ने आरोपी कार चालक के विरुद्ध विभिन्न धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

 उपायुक्त राघव शर्मा बोले, तैयारियां पूरी

सिटी रिपोर्टर- ऊना

पंचायती राज संस्थाओं के प्रथम चरण का प्रचार अभियान शुक्रवार शाम चार बजे से थम गया है और मतदान 17 जनवरी को होगा। यह जानकारी उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने शुक्रवार को प्रैस वार्ता में दी। उन्होंने बताया कि चुनाव तीन चरणों में आयोजित हो रहे हैं। दूसरे चरण का मतदान 19 जनवरी तथा तीसरे चरण का मतदान 21 जनवरी को होगा। डीसी राघव शर्मा ने बताया कि जिला के पांच विकास खंडों में प्रथम चरण में 86 ग्राम पंचायतों में मदतान के लिए 131 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं। जिनमें 23 संवेदनशील और 19 अति-संवेदनशील मतदान केंद्र हैं। पंचायती राज संस्थाओं के प्रथम चरण के चुनाव में कुल 1,37,962 मतदाता हैं। जिनमें 69,398 पुरूष और 68,564 महिलाएं शामिल हैं। राघव शर्मा ने कहा कि द्वितीय चरण में 82 ग्राम पंचायतों में मतदान के लिए 134 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं। जिसमें से 20 संवेदनशील और 10 अति-संवेदनशील मतदान केंद्र हैं। दूसरे चरण में कुल 1,23,198 मतदाता हैं। जिनमें पुरूष 61,730 और 61,468 महिला मतदाता शामिल हैं। जबकि तृतीय चरण में 77 ग्राम पंचायतों में 129 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं जिनमें 18 संवेदनशील और 10 अति-संवेदनशील मतदान केंद्र हैं।

तीसरे चरण में कुल 1,09,030 मतदाता वोट डालेंगे। जिनमें 54,977 पुरूष और 54,053 महिला मतदाता हैं। मतदान का समय सुबह आठ से शाम चार बजे तक चलेगा। जिलाधीश ने बताया कि प्रथम चरण में 562 पोलिंग पार्टियां, द्वितीय चरण में 524 पोलिंग पार्टियां व तृतीय चरण में 469 पोलिंग पार्टियां मतदान का कार्य सम्पन्न करवाएंगी। वहीं, उपायुक्त राघव शर्मा ने बताया कि पंचायत चुनाव में पंचायत समिति के दो, पंचायत प्रधान के तीन, उप-प्रधान के लिए छह तथा पंचायत सदस्यों के 576 प्रत्याशियों का निर्विरोध चुनाव हुआ है। उन्होंने बताया कि जिला परिषद् के 17 वार्डों हेतु 54 प्रत्याशी, पंचायत समितियों के शेष बचे 111 वार्डों हेतु 443 प्रत्याशी, पंचायत प्रधान के 243 पदों हेतु 929 प्रत्यशी, उप-प्रधान के 239 पदों हेतु 978 प्रत्याशी तथा पंचायत सदस्यों के 979 पदों हेतु 2282 प्रत्याशी मैदान में हैं। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में कुल 17 जिला परिषद् सदस्य, 113 पंचायत समिति सदस्य, 245 प्रधान, 245 उप-प्रधान तथा 1555 वार्ड सदस्यों का चुनाव होगा। वहीं, राघव शर्मा ने बताया कि जिन ग्राम पंचायतों में मतदान होगा। उस क्षेत्र में मतदान के 48 घंटे पूर्व से मतदान व मतगणना पूर्ण होने तक शराब की दुकानें बंद रहेंगी तथा शराब की बिक्री पर पूर्ण रूप से पाबंदी रहेगी। जिसके अन्तर्गत होटल, बार, रेस्ट्रोरेंट, कैटरिंग स्थान एवं अन्य सभी सार्वजनिक या निजी स्थानों पर शराब की बिक्री पूर्णतयाः प्रतिबंधित रहेगी।