Monday, March 08, 2021 12:20 AM

परिवहन विभाग की 90 प्रतिशत सेवाएं ऑनलाइन

मंदिर में फिर से मां के दर्शनों को लेनी होगी पर्ची, व्यवस्था बिगडऩे के बाद प्रशासन ने लिया फैसला

स्टाफ रिपोर्टर-चिंतपूर्णी शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर में माता रानी के दर्शनों के लिए मंदिर प्रशासन ने फिर से दर्शन पर्ची सिस्टम शुरू कर दिया है। अब श्रद्धालुओं को माता रानी के दर्शनों को मंदिर जाने के लिए दर्शन पर्ची लेना अनिवार्य होगा। मंदिर अधिकारी अभिषेक भास्कर ने इसकी पुष्टि की है। बताते चले कि पंचायत चुनावों के चलते होमगार्ड की चुनावों में ड्यूटियां लगने के कारण मंदिर प्रशासन ने दर्शन पर्ची सिस्टम को कुछ दिनों के लिए हटा लिया था। लेकिन अब पंचायत चुनाव समाप्त होने के बाद सोमवार से दो जगह पर एडीबी की बिल्डिंग व शंभू बैरियर पर फिर से दर्शन पर्ची होमगार्ड जवानों द्वारा देना शुरू कर दी गई है।

वहीं 26 जनवरी से एमआरसी की पार्किंग में भी दर्शन पर्ची सिस्टम श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए शुरू कर दिया जाएगा। रविवार रात मंदिर प्रशासन की ओर से अचानक जारी किए निर्देशों के बाद सोमवार को मंदिर आने वाले श्रदालुओं को फिर परेशानी झेलनी पड़ी। श्रद्धालु बिना दर्शन पर्ची मंदिर पहुंच रहे थे, लेकिन उन्हें फिर दोबारा से दर्शन पर्ची लेने के लिए दर्शन पर्ची स्थल पर भेजा जा रहा था। बताते चले ठंड के चलते मंदिर में इतनी ज्यादा भीड़ भी नहीं है। जिसके चलते मंदिर प्रशासन को दर्शन पर्ची चलाना जरूरी थी, लेकिन अधिकारियों की माने तो रविवार को मंदिर में श्रद्धालुओं की काफी भीड़ थी जिसके चलते कई जगह पर व्यवस्था बिगडऩे की शिकायतें मिलती रही। जिसके बाद ही दोबारा से दर्शन पर्ची शुरू करने का निर्णय लिया गया है। उधर मंदिर अधिकारी अभिषेक भास्कर ने बताया कि मंदिर जाने के लिए दर्शन पर्ची सिस्टम सोमवार से दो जगह पर शुरू कर दिया गया है। 26 जनवरी से एमआरसी की पार्किंग में भी दर्शन पर्ची चला दी जाएगी। उन्होंने बताया कि रविवार को व्यवस्था बिगडऩे के चलते ये निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि कुछ दिनों बाद एसओपी के चलते जो भी बंदिशें लगाई गई हैं, वो धीरे धीरे हटा दी जाएंगी।

ऊना में प्रो. राम कुमार बोले, नए प्रतिनिधि देंगे विकास को रफ्तार

स्टाफ रिपोर्टर-ऊना पंचायती राज संस्थाओं के चुनावों में हरोली विधानसभा क्षेत्र में भाजपा ने रिकार्ड तोड़ मत लेकर विजय का परचम लहराया है। यह बात हिमाचल प्रदेश उद्योग विकास निगम के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार ने ऊना मुख्यालय पर पत्रकार वार्ता दौरान कही। उन्होंने कहा कि हरोली विधानसभा क्षेत्र में अधिकतर पंचायतों में भाजपा की विचारधारा वाले पंचायत प्रधान व उपप्रधान चुनकर आए हैं। जो कि ग्रामीण स्तर पर विकास को और आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने कहा कि ब्लॉक समिति सदस्य के चुनाव में भी भाजपा समर्थित प्रतिनिधियों ने 24 में से 20 प्लस जीतकर रिकार्ड बनाया है। क्षेत्र में चार जिला परिषद की सीटें है।

जिनमें से तीन सीटों पर भाजपा ने अपना विजय परचम लहराया है। उन्होंने कहा कि भाजपा की जीत से यह स्पष्ट हो गया है कि जनता सरकार की जनहितैषी नीतियों का लाभ उठा रही है। प्रो. राम कुमार ने कहा कि इन चुनावों में ग्रामीण स्तर पर ली गई फीडबैक से स्पष्ट हो गया है कि आने वाले समय में भाजपा की सरकार बन पाएगी। उन्होंने कहा कि हरोली क्षेत्र में जनता ने भाजपा के हक में 75 प्रतिशत मत दिए हंै। जनता ने विपक्ष को धरातल दिखा दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस समर्थित लोगों द्वारा कई स्थानों पर धांधली के आरोपों को लेकर कहा कि पूर्व कांग्रेस कार्यकाल में जिला परिषद की मात्र 17 वोटों में ही हेराफेरी कर दी गई थी। जिनमें न्याय के लिए अदालत का सहारा लेना पड़ा था। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में किसी प्रकार की कोई धांधली नहीं हुई है। अगर किसी को किसी प्रकार की कोई शंका है तो वह मामले को उचित स्तर पर उठा सकता है।

स्टाफ रिपोर्टर-अंब राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कलरुही में राष्ट्रीय मतदाता दिवस एवं हिमाचल प्रदेश पूर्ण राज्यत्व दिवस के 50 स्वर्ण जयंती वर्ष 2021 होने का उत्सव के उपलक्ष में चिंतपूर्णी विकास समिति की ओर से साइकिल मैराथन 50 किलोमीटर का आयोजन किया गया। जिसमें डीएसपी सृष्टि पांडे ने 25 साइकिलिस्ट को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मैराथन 20 पंचायतों बडूही, दियाडा, भैरा, हंबोली, चरुडू से टकारला, बेहड जसवां, ठठल, पंजोआ, कुठेडा खैरला अंब से राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कलरुही में समापन किया गया। जिसमें, कुठियाडी व नंदपुर के स्थानीय निवासियों तथा व्यपार मंडल चरुडू, वार्रिओर्स अकादमी-बेहड़ जसवां, शिवानी ब्यूटी पार्लर-अंब चौक पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। अभिषेक भास्कर तहसीलदार अंब, चिंतपूर्णी विकास समिति अध्यक्ष शादी लाल, केसी सूद, मनोज कौशिक, इंदु धीमान, रमेश कौल, अश्वनी बख्शी, सुमन देवी, अधिवक्ता रीतेश पलियाल, रवि जसवाल, नीरज नाथ, प्रशांत शर्मा, अनुभव शर्मा, अतुल शर्मा, संजीव कुमार, अशोक मनकोटिया, मदन लाल, पूर्ण इंदु शर्मा आदि उपस्थित रहे।

नगर संवाददाता- ऊना

11वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर सोमवार को राजकीय महाविद्यालय ऊना में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने की। डीसी राघव शर्मा ने कहा कि प्रत्येक चुनाव में नागरिकों की सहभागिता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से वर्ष 2011 में भारतीय निर्वाचन आयोग ने अपने स्थापना दिवस 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाने की शुरुआत की। आयोग की इस पहल के आज सकारात्मक परिणाम देखने को मिल रहे हैं। प्रत्येक नागरिक अपने मताधिकार का प्रयोग करने में अब पहले से कहीं अधिक सजग है। साथ ही 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर युवक-युवतियां सर्वप्रथम अपना वोटर पहचान पत्र बनवाना सुनिश्चित करते हैं। इसी का परिणाम है कि जिला ऊना में हाल ही में संपन्न हुए पंचायती राज संस्थाओं के चुनावों में लगभग 81 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

इसमें दिव्यागों, युवाओं और बुजुर्गों ने जहां बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया । वहीं, डीसी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा आज से ई-मतदाता पहचान पत्र की सुविधा आरंभ की जा रही है। प्रत्येक पंजीकृत मतदाता अब अपने स्मार्टफोन से अपना मतदाता पहचान पत्र डाउनलोड कर सकता है। उन्होंने बताया कि मतदाता पहचान पत्र वोटर हेल्पलाइन मोबाइल ऐप, वेबसाइट https://voterportal.eci.gov.in/ https://nvsp.in/ पर जाकर भी डाउनलोड किए जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि जिन मतदाताओं के नाम मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण-2021 के दौरान दर्ज किए गए हैं, ऐसे मतदाता 25 जनवरी तथा पूर्व में पंजीकृत सभी मतदाता, पहली फरवरी, 2021 से इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।  वहीं, कार्यक्रम में डीसी राघव शर्मा ने उपस्थित नागरिकों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने की शपथ दिलाई। इस मौके पर डीसी राघव शर्मा ने जिला के दस नए मतदाताओं को उनके वोटर कार्ड प्रदान किए और पांच बूथ लेवल अधिकारियों को सम्मानित भी किया। इस अवसर पर एडीसी डा. अमित कुमार शर्मा, महाविद्यालय के प्रधानाचार्य डा. त्रिलोक चंद, नायब तहसीलदार निर्वाचन रतनजीत सिंह सहित अन्य उपस्थित रहे।

नगर संवाददाता- ऊना

सड़क सुरक्षा एवं निरीक्षण मासिक अभियान के अन्तर्गत जिला में विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से लोगों को यातायात नियमों व ई परिवहन व्यवस्था बारे जागरुक किया जा रहा है। इसी श्रृंखला में सोमवार को स्वर्ण जयंती राज्यत्व दिवस के उपलक्ष्य पर ऊना महाविद्यालय में आयोजित जिला स्तरीय समारोह में परिवहन विभाग द्वारा एक प्रदर्शनी लगाई गई। आरटीओ ऊना रमेश चंद कटोच ने बताया कि वर्तमान में परिवहन विभाग द्वारा नागरिकों को दी जाने वाली 90 प्रतिशत से अधिक सेवाएं ऑनलाइन कर दी गई हैं तथा लोग घर बैठे इन सेवाओं का लाभ भी प्राप्त कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा लाइसेंस आवेदन, वाहन पंजीकरण, राष्ट्रीय व राज्य परमिट, सभी तरह के टैक्स व आवेदन शुल्क, बुकिंग इत्यादि सेवाओं को ऑनलाइन किया जा चुका है। उन्होंने लोगों से भी आहवान किया कि वे इन ऑनलाइन सेवाओं का लाभ स्वयं भी उठाएं तथा औरों को भी प्रेरित करें। प्रदर्शनी में यातायात नियमों तथा ई-परिवहन व्यवस्था के माध्यम से ऑनलाइन उपलब्ध करवाई जा रही विभिन्न सेवाओं को दर्शाते पोस्टरों के प्रति लोगों में भारी उत्साह देखा गया। परिवहन विभाग द्वारा लोगों को परिवहन सेवाओं व यातायात नियमों के पंपलेट्स भी वितरित किए। इसके अलावा परिवहन स्टाफ द्वारा भी लोगों को सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा बारे विस्तृत जानकारी दी गई। इस अवसर पर छठे राज्य वित्तायोग अध्यक्ष सतपाल सत्ती, उपायुक्त ऊना राघव शर्मा, पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ने भी प्रर्दशनी का अवलोकन किया। इसके अलावा सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा मासिक अभियान में मीडिया के योगदान के मद्देनजर आरटीओ ने मीडिया कर्मियों का आभार प्रकट किया। इस अवसर पर क्षेत्रीय प्रबंधक दर्शन सिंह, एआरटीओ सचिन चैधरी व राजेश कौशल तथा अधीक्षक अशोक कुमार व स्टाफ ने भी लोगों को ई परिवहन व्यवस्था के माध्यम से लोगों को दी जाने वाली सुविधाओं बारे जानकारी दी।