95 फीसदी मरीजों में कोरोना के लक्षण नहीं

पंजाब, हरियाणा, जम्मू के मुकाबले प्रदेश में दस प्रतिशत से भी कम केस

सिटी रिपोर्टर—शिमला

हिमाचल प्रदेश में कोरोना के मामले धीरे-धीरे बढ़ने लगे हैं। इसी बीच खबर यह भी है कि राज्य के  95 प्रतिशत कोरोना मरीज ऐसे हैं, जिनमें वायरस के कोई लक्षण नहीं हैं। स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आरडी धीमान ने यह पुष्टि की है। हैरत है कि सैंपल लेने के दौरान मरीज पूरी तरह से ठीक होता है, लेकिन जब रिपोर्ट आती है, तो वह पॉजटिव आता है। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि हिमाचल में भले ही कोरोना के मरीजों का आंकड़ा बढ़ रहा है, लेकिन यह सभी मरीज बिल्कुल ठीक हैं, वहीं उनमें कोविड के लक्षण दूर-दूर तक नजर नहीं आ रहे है। इसके  अलावा हिमाचल में वेंटिलेटर पर एक भी कोविड का मरीज नहीं है।

 स्वास्थ्य विभाग ने आश्वास्त होकर कहा है कि राज्य में अभी स्थिति बिल्कुल सामान्य है, वहीं कोरोना पीक पर भी नहीं है। अहम यह है कि स्वास्थ्य विभाग ने जब हिमाचल की पड़ोसी राज्यों से तुलना की तो पाया कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ के मुकाबले यहां कोरोना के दस प्रतिशत मामले भी नहीं आ रहे हैं।

पंजाब में रोजाना एक हजार से ज्यादा कोविड के मामले आ रहे हैं, हरियाणा में 800 और जम्मू में भी हजार के आसपास कोविड के मामले आ रहे है।  हिमाचल की बात करें, तो इन दिनों रोज 80 से सौ के करीब मामले पहुंच रहे हैं। फिलहाल यह हिमाचल सरकार का सर्वे है, जिसमें यह खुलासा हुआ है कि राज्य में कोरोना अभी कंट्रोल में है। अहम यह है कि हिमाचल में कोरोना के मरीज सबसे ज्यादा बाहरी राज्यों से ही आए हैं।

मरीजों के लिए होम आइसोलेशन तंत्र खोजें डीसी

शिमला— हिमाचल प्रदेश में बिना लक्षण वाले मरीजों के लिए आइसोलेशन तंत्र खोजने के आदेश सीएम जयराम ठाकुर ने उपायुक्तों को जारी किए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बिना लक्षण वाले उन कोविड-19 रोगियों के लिए होम आइसोलेशन की संभावनाओं का पता लगाया जाना चाहिए, जिनके पास इसकी पर्याप्त सुविधा है। मुख्यमंत्री ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से  उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों को संबोधित करते हुए यह आदेश जारी किए। उन्होंने कहा कि उपायुक्तों को होम आईसोलेशन में रहने के इच्छुक कोविड-19 लक्षण रहित ऐसे व्यक्तियों जिनके पास अलग ठहरने की व्यवस्था है, के लिए एक ऐसा तंत्र विकसित करना चाहिए कि वे घर पर ही रह सकें और क्वारंटाइन केंद्रों में जाने की आवश्यकता न हो। स्वास्थ्य मंत्री डा. राजीव सहजल ने यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि बिना उचित पंजीकरण के राज्य में कोई भी प्रवेश न करे।

प्रदेश में मौजूदा समय में 35 कोविड केयर सेंटर

प्रदेश में मौजूदा समय में 35 कोविड केयर सेंटर हैं, जिसमें 24 सौ मरीजों को रखने की क्षमता है। सरकार ने रिपोर्ट मांगी है कि हर जिला में कितने कोविड केयर सेंटर्ज की संख्या बढ़ाई गई है। प्रदेश में अभी तक एक लाख 71 हजार 413 मरीजों के सैंपल लिए जा चुके हैं, जिनमें एक लाख 65 हजार 476 मरीज नेगटिव चुके हैं। अभी तक  3579 मरीज पॉजटिव भी हो चुके हैं, जिसमें से 1214 मरीज वर्तमान में एक्टिव हैं, वहीं 2321 मरीज ठीक हो चुके हैं।

The post 95 फीसदी मरीजों में कोरोना के लक्षण नहीं appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.

Related Stories: