Friday, October 23, 2020 04:33 AM

अब वक्त आ गया है बड़े प्रशासनिक फेरबदल का, डीसी-सचिवों-साहबों को बदलने की तैयारी

कई जिलों के डीसी-विभागों के सचिवों-निदेशालयों के साहबों को बदलने की तैयारी

जयराम सरकार कई जिलों के जिलाधीशों को बदलने की तैयारी में है। इसके अलावा प्रशासनिक सचिवों के विभागों में फेरबदल तय है। प्रदेश के कई निदेशालयों के साहब भी बदले जाएंगे। इसके लिए राज्य सरकार ने खाका तैयार कर लिया है। पुख्ता सूचना के अनुसार इस सप्ताह किसी भी समय सबसे बड़े प्रशासनिक फेरबदल का बुलेटिन जारी हो सकता है। हालांकि तीन अक्तूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हिमाचल दौरा प्रस्तावित है। बावजूद इसके जयराम सरकार पीएम टूअर से पहले कई जिलों के डीसी और विभागीय प्रशासनिक सचिवों का बदलने का मन बना चुकी है।

अपना टेन्योर पूरा कर चुके डीसी को वापस शिमला बुलाया जाएगा। हालांकि परफॉर्मेंस के आधार पर डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति को कुछ समय और फील्ड में दिए जाने की चर्चा है। जाहिर है कि जयराम सरकार ने सत्ता संभालने के बाद कुल्लू जिला के तत्त्कालीन उपायुक्त युनुस को छोड़कर सभी 11 जिलों के डीसी बदल दिए थे। इसके तहत छह जनवरी, 2018 को राकेश प्रजापति को हमीरपुर, विवेक भाटिया को बिलासपुर, अमित कश्यप को शिमला, गोपाल चंद को सिरमौर, संदीप कुमार को कांगड़ा, ऋचा वर्मा को हमीरपुर और हरिकेश मीणा को चंबा में तैनाती दी गई थी। इसके बाद सभी डीसी जिलों में डटे हैं। राकेश प्रजापति ऊना और कांगड़ा के साथ अब तक तीन जिलों में दायित्व संभाल चुके हैं। अन्य सभी को दो-दो जिलों में सेवाएं देने का मौका मिला है। इसके चलते करीब पौने तीन साल का कार्यकाल पूरा होने के कारण इन्हें जिलों से हटाया जा सकता है।

इसके अलावा बिलासपुर में तीन जून, 2019 को तैनात उपायुक्त राजेश्वर गोयल को शिमला में बड़ा दायित्व मिल सकता है। पांच जुलाई, 2019 को सोलन भेजे गए। केसी चमन और सिरमौर के डा. आरके परूर्थी को फील्ड में और समय मिलने की संभावना है। तीन जून, 2019 को लाहुल भेजे गए कमलकांत सरोच को भी दूसरा जिला मिलने की चर्चा है। सूचना के अनुसार जिलों में अब नए उपायुक्तों की तैनाती के लिए हिमाचली अफसरों को प्राथमिकता मिलेगी। इसके लिए वर्ष 2014 के आईएएस प्रोमोटी से कई अफसरों को चांस दिए जाने की संभावना है। हालांकि डीसीशिप के लिए तैयार वर्ष 2013 बैच के  डायरेक्ट पांच और प्रोेमोटी अफसर भी नजरें गाड़े बैठे हैं। परफार्मेंस के आधार पर वर्ष 2014 के डायरेक्ट आईएएस अफसर भी सरकार की पसंद हैं, लेकिन उन्हें डीसीशिप के लिए कुछ इंतजार करना पड़ सकता है।

निदेशालयों को मिलेंगे नए बॉस

उपायुक्तों के संभावित तबादलों के कारण कई निदेशालयों को नए बॉस मिलेंगे। इस कारण प्रशासनिक फेरबदल बड़े स्तर पर होगा। कई आला प्रशासनिक अफसरों के विभागों में फेरबदल किया जाना है। माना जा रहा है कि कार्मिक विभाग के एसीएस आरडी धीमान होम क्वारंटाइन पर चल रहे हैं। उनके लौटने के बाद इसी सप्ताह तबादला आदेश जारी हो सकते हैं।

आईपीएस जलाल को मिली दिल्ली जाने की अनुमति

शिमला। आईपीएस अधिकारी आसिफ जलाल को केंद्र सरकार में प्रतिनियुक्ति पर जाने की सरकार ने इजाज़त दे दी है। वह आईजी स्टेट विजिलेंस एंड एंटी क्रप्शन ब्यूरो में तैनात थे। उनकी गृह मंत्रालय में डायरेक्टर के पद पर तैनाती हुई है।

The post अब वक्त आ गया है बड़े प्रशासनिक फेरबदल का, डीसी-सचिवों-साहबों को बदलने की तैयारी appeared first on Divya Himachal.