Saturday, January 23, 2021 03:16 AM

अधिकारियों ने साझा की जानकारी

जिला कुल्लू में बन रही एनएचपीसी की पार्वती परियोजना व एशिया की सबसे उंची सड़क टनल बनाने वाले सीमा सड़क संगठन बीआरओ ने एक-दूसरे के साथ ज्ञान साझा किया। पार्वती परियोजना के कार्यालय में एक कार्यक्रम का आयोजन गुरुवार को किया गया, जिसमें परियोजना के अधिकारियों सहित बीआरओ के अधिकारियों ने भाग लिया। इस मौके पर टनल प्रोजेक्ट में कार्यरत केपी पुरुशोथमन, (विशेष सेवा मेडल) मुख्य अभियंता रोहतांग टनल, बीआरओ ने अपनी टीम के साथ टनल प्रोजेक्ट के निष्पादन के दौरान विभिन्न तकनीकी और गैर-तकनीकी पहलुओं के बारे में विस्तार से बताया।

इस अवसर पर परियोजना प्रमुख एलके त्रिपाठी ने पार्वती जल विद्युत परियोजना के बारे में बीआरओ संस्थान से आए अधिकारियों की टीम को विस्तार से समझाया। बता दें कि अटल टनल के उद्घाटन के दौरान भी प्रधानमंत्री मोदी ने बीआरओ को इस संदर्भ में पहल करने को कहा था, जिससे टनल में प्रयोग में लाई गई तकनीकों के बारे में लोगों को भी पता चल सके। इसके तहत ही इस प्रकार की श्रृंखला को आरंभ किया गया है। इस कार्यक्रम में डुगर जल विद्युत परियोजना के प्रमुख शशीकांत तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भी भाग लिया। कार्यक्रम में लगभग प्रतिभागियों ने भाग लिया, जो अधिकारी व्यक्तिगत रूप से इस कार्यक्रम में भाग नहीं ले सकें वे विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े।

The post अधिकारियों ने साझा की जानकारी appeared first on Divya Himachal.