Monday, October 18, 2021 04:30 PM

कल से खुलेंगे सभी विश्वविद्यालय, शिक्षण नियामक आयोग ने ई-मेल के जरिए भेजी सूचना

शिक्षण नियामक आयोग ने सभी विश्वविद्यालय को ई-मेल के जरिए भेजी सूचना

स्टाफ रिपोर्टर — शिमला

कोविड के बीच छात्रों को राहत देते हुए प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों को 24 सितंबर से खोल दिया जाएगा। यानी करीब एक साल के अंतराल के बाद विश्वविद्यालय में छात्रों की ऑफलाइन कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। राज्य शिक्षण नियामक आयोग ने प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों को इस बारे में ई-मेल के जरिए अधिसूचना जारी कर दी है। इसमें कहा गया है कि यूनिवर्सिटी प्रशासन अपने स्तर पर केंद्र द्वारा जारी एसओपी का पूरी तरह से पालन करे। काफी समय से छात्र मांग कर रहे थे कि ऑनलाइन पढ़ाई में उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। खासकर प्रैक्टिकल विषय को समझने में उन्हें कठिनाई आ रही है।

 ऐसे में प्रशासन से यूनिवर्सिटी को जल्द से जल्द खोलने की मांग उठाई जा रही थी। दूसरा प्रदेश कैबिनेट ने यह फैसला लिया था कि यूनिवर्सिटी को खोला जाए, लेकिन प्रशासन इसमें अपने स्तर पर फैसला ले कि इसके लिए कोविड प्रोटोकॉल को किस तरह से लागू करना है। इसमें अब छात्रों को बड़ी राहत दी गई है। इसमें एक दिक्कत भी यह भी सामने आ रही थी कि छात्रों के लिए होस्टल खोले जाए या नहीं। इस पर सरकार फैसला नहीं ले पा रही थी, लेकिन अब सरकार ने यह फैसला प्रबंधन पर ही छोड़ दिया है। इसमें केंद्र की ओर से जारी की गई एसओपी का पूरी तरह से पालन करना होगा। संस्थान खुलने का सीधा फायदा यह होगा कि विभिन्न कोर्स में पढ़ाई करने वाले ऐसे छात्र जिनका अंतिम सेमेस्टर चल रहा है, उन्हें प्लेसमेंट का मौका मिल सकेगा। यानी निजी कंपनियां छात्रों की प्लेसमेंट के लिए यूनिवर्सिटी आ सकेंगी।

कालेजों में कक्षाओं के आधार पर लिया फैसला

प्रदेश के कालेजों में पहली सितंबर से रेगुलर कक्षाएं शुरू कर दी गई थीं। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने इसके लिए तर्क दिया था कि कालेज और यूनिवर्सिटी जाने वाले सभी बच्चे 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के हैं और उन्हें कोरोना डोज लग चुकी है। ऐसे में इन बच्चों के लिए यदि संस्थान खोले भी जाते हैं, तो इनमें कोविड का खतरा कम है। कालेजों में एसओपी के साथ ही कक्षाएं सुचारू रूप से जारी हैं। इसी तर्ज पर अब यूनिवर्सिटी में भी 24 सितंबर से नियमित कक्षाएं शुरू होंगी।