Tuesday, November 30, 2021 08:39 AM

किन्नौर के अनूप नेगी ने मनास्लु पर फहराया तिरंगा

आईटीबीपी के दो अधिकारियों सहित देशों के छह पर्वतारोहियों ने 8163 मीटर ऊंची पर्वत चोटी पर चढऩे में पाई सफलता

दिव्य हिमाचल ब्यूरो— रिकांगपिओ किन्नौर जिला के कनई निवासी आईटीबीपी में उप सेनानी अनूप नेगी व कमांडेंट रतन सिंह ने नेपाल में समुद्र तल से 8163 मीटर ऊंची पर्वत चोटी मनास्लु पर तिरंगा फहराया। आईटीबीपी के दो अधिकारियों सहित अन्य देशों के छह पर्वतारोही ने मनास्लु चोटी पर चढऩे में सफलता पाई है। यह दुनिया की आठवीं सबसे ऊंची चोटी है, जिसकी समुद्र तल से ऊंचाई 8163 मीटर है। अनूप नेगी की सफलता से जिला किन्नौर व कनई गांव के लोगों में खुशी का माहौल है।

आईटीबीपी में उप सेनानी अनूप नेगी ने बताया कि 11 सितंबर को काठमांडू से यह अभियान शुरू हुआ था तथा 15 दिन में वापस बेस कैंप पहुंचे। इस दौरान दल को बर्फबारी, माइनस तापमान और अधिक ऊंचाई का सामना करना पड़ा। आईटीबीपी के अधिकारियों में डिप्टी कमांडेंट अनूप कुमार और कमांडेंट रतन सिंह शामिल थे। दोनों पहले भी कई कीर्तिमान स्थापित कर चुके हैं। आईटीबीपी के इन अधिकारियों ने नंदा देवी पर हुए रेस्क्यू ऑपरेशन डेयरडेविल्स का भी नेतृत्व किया था। जुलाई, 2019 में हुए इस ऑपरेशन में चार विदेशी नागरिकों को रेस्क्यू किया गया था। रेस्क्यू टीम ने 20 हजार फुट की ऊंचाई से सात शव भी रिकवर किए थे। वहीं 31 अक्तूबर, 2019 को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा साहसिक सेवा के लिए 'केंद्रीय गृह मंत्री विशिष्ट ऑपरेशन पदकÓ से अनूप नेगी को सम्मानित किया जा चुका है।