टोक्यो ओलंपिक में कमाल करेंगे आशीष चौधरी, प्रतियोगिता 23 जुलाई से पांच अगस्त तक

स्टाफ रिपोर्टर— सुंदरनगर कहते हैं, मनोबल को इतना सशक्त कर कठिनाई भी आने से डरे, आत्मविश्वास तेरे में इतना हो बड़े-बड़े कष्ट आने से भी डरे। कोरोना महामारी ने चाहे जिंदगी को अस्त-व्यस्त कर दिया है, परंतु बच्चों में पढ़ाई के साथ अन्य गतिविधियों में रुचि दिखाना कम नहीं किया है। इसी जज्बे के साथ डीएवी पब्लिक स्कूल सुंदरनगर की तृतीय कक्षा की छात्रा मायरा ने ऑल इंडिया चैस फेडरेशन द्वारा हिमाचल स्टेट चैस अंडर-10 गर्ल चैंपियनशिप-2021 में द्वितीय स्थान हासिल किया।

मायरा अब ऑनलाइन नेशनल अंडर-10 ओपन चैस चैंपियनशिप 2021, जो कि 28 से 30 जून तक आयोजित की जानी है, उसमें हिस्सा लेंगी। प्रधानाचार्य मोहित चुग ने बताया कि बच्चे जहां एक ओर ऑनलाइन शिक्षण पद्धति में शानदार तरीके से पढ़ाई कर रहे हैं, वहीं अन्य गतिविधियों में भी बढ़-चढ़कर भाग लेते हैं, तो संभवत बच्चों का चहुमुखी विकास होना स्वाभाविक है। प्रधानाचार्य ने मायरा के पिता प्रकाश व माता नैना को भी बधाई दी है।

हिमाचली बॉक्सर के परिजनों से जिला युवा एवं सेवा के अधिकारी मंडी की भेंट

स्टाफ रिपोर्टर— सुंदरनगर टोक्यो ओलंपिक-2021 के लिए हिमाचली बॉक्सर आशीष चौधरी भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। यह प्रतियोगिता 23 जुलाई से पांच अगस्त तक आयोजित की जाएगी। इस संदर्भ में युवा सेवाएं एवं खेल विभाग हिमाचल प्रदेश की ओर से आशीष चौधरी और उनके परिजनों को बधाई देने के लिए जिला युवा एवं सेवा के अधिकारी मंडी नरेश ठाकुर टीम सहित घर पहुंचे और परिजनों को गुलदस्ता भेंट करके बधाई दी। उन्होंने आशा जाहिर की है कि आशीष चौधरी इस प्रतियोगिता में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत कर लाएंगे। वर्तमान में आशीष पटियाला कोचिंग कैंप में प्रैक्टिस कर रहे हैं। उनके साथ हैंडबाल कोच अशोक गौतम, जिला युवा संयोजक जगदीश चंद, लिपिक खेम राज मौजूद रहे। सुंदरनगर से स्कूली और एमएलएसएम कॉलेज से स्नातक करने वाले आशीष वर्तमान में तहसील कल्याण अधिकारी के पद पर धर्मपुर में कार्यरत हैं। आठ जुलाई, 1994 को स्वर्गीय भगतराम डोगरा के घर जन्मे आशीष चौधरी ने नौ साल की उम्र में हाथों में बॉक्सिंग गलव्ज पहन लिए थे। वह एमएलएसएम कालेज में कोच नरेश ठाकुर के पास कोचिंग लेने जाते थे।

आशीष की माता दुर्गा देवी ने बेटे की इस उपलब्धि पर गर्व जताते कहा कि अगर आज उसके पिता हमारे बीच होते तो वह फूले न समाते। यह सम्मान की बात है कि बेटा अब ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करेगा। आशीष हिमाचल के पहले बॉक्सर हैं, जो ओलंपिक में खेलेंगे। आशीष नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक, 2015 में हुई ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी में रजत, इंडोनेशिया में हुई एशिया टेस्ट इवेंट इंटरनेशनल प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीत चुके हैं। आर्मी स्पोट्र्स संस्थान पुणे में हुई सीनियर राष्ट्रीय मुक्केबाजी प्रतियोगिता में भी आशीष ने कांस्य जीता था। यूक्रेन में 21वीं इंटर नेशनल बॉक्सिंग, रशिया में 10वीं इंटरनेशनल बॉक्सिंग, राउंड रोबिन इंटरनेशनल बॉक्सिंग टूर्नामेंट, विश्व सीरीज ऑफ बॉक्सिंग, इंडिया ओपन इंटरनेशनल प्रतियोगिता में भी वह भाग ले चुके हैं। बुल्गारिया में हुए 70वें स्ट्रेंडजा कप और प्रेजिडेंट कप में भी वह देश का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।

Related Stories: