Tuesday, December 07, 2021 05:35 AM

प्रकृति से खिलवाड़ का बुरा नतीजा

उत्तराखंड में बरसात ने जाते-जाते अपना रौद्र रूप दिखाया। यहां भारी बारिश से भूस्खलन होने के कारण लगभग 40 से ऊपर लोगों की मौत की खबर है और बहुत सी सड़कें आवाजाही के लिए बंद हो गई हैं। देश-दुनिया के किसी भी कोने में जब किसी भी रूप में प्रकृति अपना कहर बरपाती है, तब हर किसी को यह सोचने पर मजबूर कर देती है कि इनसान ने विज्ञान के क्षेत्र में बेशक बहुत तरक्की कर ली है, लेकिन वह प्रकृति के आगे आज भी बौने का बौना ही है। अगर इनसान ने प्रकृति से छेड़छाड़ बंद नहीं की और पर्यावरण को संभालने के लिए अगर अभी भी प्राथमिक तौर पर गंभीरता नहीं दिखाई गई तो क्या भविष्य में प्रकृति कहर बरपा कर प्राणी जाति के लिए और विकट मुसीबतें नहीं पैदा करेगी? अब प्रकृति के संरक्षण पर इनसान को सोचना ही होगा।

 -राजेश कुमार चौहान, सुजानपुर टीहरा