Wednesday, November 25, 2020 10:38 PM

औद्योगिक क्षेत्र बद्दी-चंड़ीगढ़ रेल लिंक को भू-अधिग्रहण का काम शुरू

औद्योगिक क्षेत्र बद्दी को रेललाइन से जोड़ने का सपना हकीकत बनना शुरू हो गया है। दरअसल बहुप्रतिक्षित बददी-चंडीगढ़ रेल लाइन परियोजना के लिए उत्तर रेलवें ने भूमि अधिग्रहण की कवायद शुरू कर दी है।  इसी कड़ी में रेल मंत्रालय के निर्माण संगठन  ने सेक्शन-20 ए के तहत भूमि अधिग्रहण की अधिसूचना जारी कर दी है। इस अधिसूचना के अंर्तगत परियोजना के लिए चिन्हित भूमि के मालिक आगामी 30 दिनों के भीतर सक्षम प्राधिकारी (एसडीएम नालागढ़) के समक्ष अपने दावे प्रस्तुत कर सकते है। तमाम दावों पर सुनवाई के उपरांत सक्षम प्राधिकारी सेक्शन 20-डी के तहत अंतिम अधिसूचना जारी करेंगे, जिसके उपरांत रेल लाइन के निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2007-08 में स्वीकृत चंडीगढ़-बद्दी रेललाइन की अनुमानित लागत 1672.70 करोड़ रुपए आंकी गई है। इसका 50 फीसदी भाग केंद्र और 50 फीसदी भाग हिमाचल सरकार वहन करेगी। रेल लाइन निर्माण के लिए करीब 77.73 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण को केंद्र सरकार ने जून, 2019 में इसे स्पेशल रेलवे प्रोजेक्ट घोषित किया है। हिमाचल के हिस्से में आने वाले नौ गांवों सराज माजरा लबाणा में 0.7301 हेक्टेयर, बद्दी शीतलपुर में 9.74 हेक्टेयर, कल्याणपुर 6.59, चक्क जंगी 1.15, लंडेवाल में 1.20, कैंदुवाल में 5.71 हेक्टेयर, बिल्लांवाली गुज्जरा में 4.99 हेक्टेयर, हरिपुर संडोली में 5.47 व संडोली में 3.08 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण की प्रकिया शुरू की गई है। ब्रॉडगेज रेल लाइन प्रोजेक्ट के लिए हिमाचल में कुल 38.071 हेक्टेयर भूमि , हरियाणा के हिस्से में सूरजपुर से खोखरा तक 192 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण होगा।

बद्दी के ये गांव आएंगे

चंड़ीगढ़-बद्दी स्पेशल रेलवे प्रोजेक्ट के लिए 38.071 हेक्टेयर जमीन अधिगृहित की जाएगी। इन गांवों में सराजमाजरा लबाना, शीतलपुर, चक जंगी, कल्याणपुर, बिलावाली गुज्जरा, लंडेवाल, संड़ोली, हरिपुर-संडोली और केंदूवाल शामिल हैं। इस रेललाइन में हिमाचल का करीब तीन किलोमीटर हिस्सा आ रहा है और बाकी हरियाणा का है।

2007 में मिली मंजूरी

इस ब्रॉडगेज रेल लाइन प्रोजेक्ट के लिए 2007 में केंद्र सरकार की ओर से मंजूरी मिली थी, जिसे जून 2019 में केंद्र सरकार ने स्पेशल रेलवें प्रोजेक्ट घोषित किया है। बद्दी एक इंडस्ट्रियल हब है, जहां से रोजाना हजारों कंटेनर अंबाला और दिल्ली पहुंचाए जाते हैं। ऐसे में इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से उद्योगपतियों और अन्य कारोबारियों को राहत मिलेगी।

निवेश के खुलेंगे द्वार

बीबीएन उद्योग संघ के अध्यक्ष संजय खुराना ने कहा कि बददी चड़ीगढ़ रेल लाइन बीबीएन के उद्योगों के लिए संजीवनी का काम करेगी। साथ ही नए निवेशकों के लिए भी रास्ते खुलेंगे। चंडीगढ़-बद्दी रेल लिंक का सर्वे रेलवे विभाग और संबंधित विभागों ने पूरा कर लिया है, अधिसूचना के उपरांत अब भूमि अधिग्रहण की कवायद रफ्तार पकड़ेगी।

The post औद्योगिक क्षेत्र बद्दी-चंड़ीगढ़ रेल लिंक को भू-अधिग्रहण का काम शुरू appeared first on Divya Himachal.