Monday, October 26, 2020 02:43 PM

बंजार के वार्डों में नहीं मिला कोरोना

एक्टिव केस फाइंडिंग कैंपेन पूरा, कंटेनमेंट-बफर जोन से मिली राहत

बंजार उपमंडल के अंतर्गत नगर पंचायत बंजार के वार्ड नंबर 2,4,5,6 तथा सात में कोरोना पॉजिटिव के कुछ मामले सामने आने पर इन वार्डों को कंटेनमेंट जोन, जबकि वार्ड नंबर एक तथा तीन को बफर जोन घोषित किया गया था। अब क्योंकि इन क्षेत्रों को एक्टिव केस फाइंडिंग कैंपेन के बावजूद कोरोना का कोई अन्य मामला सामने नहीं आया है, इसलिए उपायुक्त डा. ऋचा वर्मा ने इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन से मुक्त करने के आदेश जारी कर दिए हैं। अब लोग सामान्य क्षेत्रों की भांति इन क्षेत्रों में आवाजाही तथा अन्य गतिविधियों का संचालन कर सकेंगे।

इसी प्रकार नगर परिषद कुल्लू के अंतर्गत वार्ड नंबर नौ हनुमानी बाग का हरीहर अस्पताल तक चारों ओर रास्तों से घिरा क्षेत्र कंटेनमेंट जोन से तथा वार्ड का शेष क्षेत्र बफर जोन से मुक्त किया गया है। ग्राम पंचायत कराड़सू वार्ड नंबर नौ में उत्तर में खनेड़ रास्ते की सीमा से दक्षिण में कराड़सू नाला, पूर्व में कुल्लू-मनाली बाईं तरफ सड़क के निचली ओर, पश्चिम में खनेड की़ ओर ब्यास नदी के साथ तथा चौकीदार बेहड़ तक, उत्तर में सुनील के घर के साथ लगती सीढि़यों से दक्षिण में माहनी नाला तक, पूर्व में कुल्लू-मनाली सड़क के बाईं ओर तथा  सड़क को छोड़कर शिकारी बेहड़ तक, उत्तर में सीराजी बेहड़ में माध्यमिक पाठशाला से दक्षिण में साथ लगते नाले की सीमा तक तथा पूर्व में कंक्रीट के रास्ते तक के क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन तथा इस वार्ड के शेष क्षेत्र को बफर जोन से बाहर करने के जिला दंडाधिकारी डा. ऋचा वर्मा ने आदेश जारी किए हैं।

ग्राम पंचायत सारी के वार्ड नंबर छह के उत्तर में गैमन पुल के निचली तरफ रामशिला पुल, दक्षिण में राज्य उच्च मार्ग की सीमा तक स्टेट हाई-वे को छोड़कर तथा पश्चिम में ब्यास नदी की सीमा तक के क्षेत्र को भी कंटेनमेंट जोन से मुक्त किया गया है। कंटेनमेंट जोन के चारों ओर 100 मीटर के दायरे में आने वाले क्षेत्रों को भी बफर जोन से मुक्त किया गया है। कराड़सू ग्राम पंचायत के वार्ड नंबर नौ का शेष क्षेत्र भी बफर जोन से बाहर किया गया है। अब लोग सामान्य क्षेत्रों की भांति इन क्षेत्रों में आवाजाही तथा अन्य गतिविधियों का संचालन कर सकेंगे।

The post बंजार के वार्डों में नहीं मिला कोरोना appeared first on Divya Himachal.