Saturday, August 15, 2020 04:46 PM

बरसात में अब 24 घंटे खुले रहेंगे कंट्रोल रूम

धर्मशाला-मानसून सीजन में आपदा से बचाव के लिए जिला प्रशासन ने तैयारियां पूर्ण कर ली हैं। जिला स्तर तथा उपमंडल स्तर पर आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम 24 घंटे खुले रहेंगे। आपदा से त्वरित प्रभाव से निपटा जा सके। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने सोमवार को डीआरडीए सभागार में मानसून सीजन में आपदा से निपटने की पूर्व तैयारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।  उपायुक्त ने कहा कि सभी विभागों को मानसून सीजन के दौरान आपदा प्रबंधन से जुड़े कार्यों के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त करने निर्देश भी दिए गए हैं, जिससे आपदा प्रबंधन का कार्य सुचारू रूप से सके। उन्होंने कहा कि सभी उपमंडलाधिकारियों को पंचायत प्रतिनिधियों तथा वालंटियर्स के साथ आपदा प्रबंधन को लेकर आवश्यक बैठकें आयोजित करने के निर्देश दिए गए है, जिससे आपदा प्रबंधन के कार्यों में प्रशासन को आम जनमानस का सहयोग भी मिल सके। उपायुक्त ने कहा कि जिला स्तर तथा उपमंडल स्तर पर आपदा प्रबंधन को लेकर बचाव दल भी गठित कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि मौसम के पूर्वानुमान की जानकारी नियमित तौर पर लोगों तक पहुंचाने के लिए भी उपयुक्त कदम उठाए जाएंगे। इससे आम जनमानस पहले से ही मौसम को लेकर पहले से अलर्ट रहें। उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में भू-स्खलन को लेकर संवेदनशील सड़कों एवं अन्य जगहों की सूची पहले से तैयार की जाए तथा भू-स्खलन इत्यादि से होने वाले नुकसान को कम करने की दिशा में कारगर कदम उठाए जाएं। इसके साथ ही लोक निर्माण विभाग, आईपीएच तथा विद्युत बोर्ड को आपदा प्रबंधन की दृष्टि से जेसीबी मशीनें और आवश्यक उपकरण भी पहले से तैयार रखने के निर्देश दिए गए हैं। उपायुक्त ने कहा कि आपदा प्रबंधन के लिए सड़कों में पानी की निकासी इत्यादि की भी उचित व्यवस्था करने, शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में में नालों तथा गंदे पानी की निकासी के लिए निर्मित नालियों की भी उचित सफाई की जाए।

15 जुलाई से पहले करें वाटर टैंकों की सफाई

उपायुक्त राकेश प्रजापति ने आईपीएच विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि 15 जुलाई से पहले सभी पेयजल भंडारण टैंकों की सफाई तथा पानी की क्लोरिनेशन का कार्य पूरा किया जाए। इससे लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सके और जलजनित रोगों से भी बचाव किया जा सके। उपायुक्त ने कहा कि खाद्य आपूर्ति विभाग को भी आवश्यक खाद्य वस्तुओं का दो माह का भंडारण सुनिश्चित करने के लिए कहा  गया है। आपदा के दौरान राहत कार्यों में किसी भी स्तर पर बिलंब नहीं किया जा।

The post बरसात में अब 24 घंटे खुले रहेंगे कंट्रोल रूम appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.