Tuesday, April 13, 2021 09:06 AM

हैल्थ-वैलनेस सेंटरों में मिल रहीं बेहतर सुविधाएं

नगर संवाददाता-ऊना सरकार ने बजट में 2555 एसएमसी अध्यापकों के साथ ५०० रुपए मानदेय में वृद्धि करके भद्दा मजाक किया हैं, जोकि बहुत ही निराशाजनक हैं। यह बात एसएमसी अध्यापक स्टेट यूनियन के मीडिया प्रभारी और ऊना यूनियन के प्रधान अनवर खान, उपप्रधान नवदीप कुमार, महासचिव चंद्रमोहन, सचिव पंकज, को-ऑर्डिनेटर एडवाइजर सतीश, मीडिया प्रभारी दिनेश, सह-सचिव मुकेश, कैशियर प्रवेश कुमारी, एडवाइजर पूनम, अंजना, मोनिका द्विवेदी ने कही।

उन्होंने कहा कि एसएमसी अध्यापकों को सरकार से उम्मीद थी कि सरकार बजट में 2555 एसएमसी अध्यापकों के लिए पीटीए, पैट, पैरा और पंजाबी व उर्दू अध्यापकों की तर्ज पर स्थाई नीति बनाएगी। लेकिन सरकार ने 500 रुपये बढ़ा कर एसएमसी अध्यापकों के साथ मजाक किया हैं। अब इसको लेकर एसएमसी अध्यापक जल्दी राज्यस्तरीय बैठक करेंगें। तथा सड़कों पर उतरने से भी परहेज नही करेंगें। एसएमसी अध्यापक पिछले 09 बर्षों से हिमाचल प्रदेश के विभिन्न स्कूलों में कम वेतन और बिना किसी अवकाश के लगातार अपनी सेवाएं दे रहें हैं।

निजी संवाददाता-बरमाणा जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रकाश दरोच ने जानकारी देते हुए बताया कि लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं देने के उदे्श्य से आयुष्मान भारत के तहत 89 हैल्थ एंड वैलनेस सेंटर जिला बिलासपुर में कार्य कर रहे हैं, जिनमें 38 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों व 51 उप स्वास्थ्य केंद्रों को हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर बनाया गया है। हैल्थ एंड वैलनेस सेंटर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में डाक्टरों व स्वास्थ्य उप केंद्रों में कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर की तैनाती की गई है। इन सभी हैल्थ एंड वैलनेस सेंटरों में टेली-कंसलटेशन के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की जा रही है।

कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर टेली-कलसलटेशन के माध्यम से स्वास्थ्य उप केंद्रों से नजदीकी हेल्थ एंड वैलनेस केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के डाक्टर या फिर श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कालेज नेरचैक जिला मंडी में जिस रोग से मरीज ग्रसित है उसके स्पेशलिस्ट डाक्टर को टेली-कलसलटेशन के माध्यम से उस मरीज को बैठे-बैठे ही उपचार उपलब्ध करवाया जाता है। हैल्थ एंड वैलनेस सेंटर, प्राथामिक स्वास्थ्य केंद्रों में मातृत्व स्वास्थ्य, शिशु स्वास्थ्य, टीकाकरण, परिवार नियोजन के अस्थाई साधनों आदि की सुविधाएं उपलब्ध हैं।