Tuesday, September 22, 2020 07:57 PM

बिजली बोर्ड मुख्यालय में एंट्री बंद

 कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रशासन ने जारी किए आदेश, वीआईपी के आने पर होगी पूरी पड़ताल

शिमला-जिस तरह से सरकारी दफतरों में अब कोरोना के मामले सामने आने लगे हैं, उससे कर्मचारी व अधिकारी वर्ग में भी दहशत का माहौल है। प्रदेश का सचिवालय इसका बड़ा उदाहरण है, जहां पर कोरोना के तीन मामले निकल चुके हैं। बाहर से आने वाले लोगों की वजह से सचिवालय के अधिकारी व कर्मचारी कोरेना पॉजिटिव हुए। ऐसे में सभी सरकारी महकमों में सतर्कता बरती जा रही है, जिसे ध्यान में रखते हुए अब बिजली बोर्ड के मुख्यालय कुमार हाउस में भी बाहर से आने वाले लोगों की एंट्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

बिजली बोर्ड प्रशासन ने आदेश जारी किए हैं कि बाहर से कोई भी अंदर प्रवेश नहीं करेगा। जो कोई वीआईपी या जनप्रतिनिधि यहां पर आता है, तो उसे समय लेकर आना होगा। उसकी पूरी स्कैनिंग और पड़ताल यहां मुख्य गेट पर की जाएगी। बिजली बोर्ड की कर्मचारी यूनियन ने यह मसला उठाया था, क्योंकि महामारी अब काफी ज्यादा रौद्र रूप धारण कर चुकी है। बिजली बोर्ड के मुख्यालय में लगातार ठेकेदार व सप्लायर काफी ज्यादा संख्या में आते हैं, जिनके यहां पर टेंडर से जुड़े कामकाज रहते हैं। इनकी वजह से कहीं मुख्यालय में कोरोना प्रवेश न कर जाए, इसलिए पहले से सतर्कता जरूरी है। बोर्ड के कार्यकारी निदेशक कार्मिक अश्वनी कुमार शर्मा की ओर से यह आदेश जारी हुए हैं। इन आदेशों में कहा गया है कि कर्मचारी यहां पर फेस मास्क लगाकर रखेंगे, समय-समय पर हाथ धोएं व सेनेटाइज करेंगे। साथ ही दफ्तर में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जाएगा। यदि किसी कर्मचारी को सर्दी, जुकाम जैसे लक्षण होंगे तो उसे कार्य स्थल पर न आकर अवकाश पर रहने को कहा गया है।  सरकार ने सरकारी दफ्तरों के लिए जो एसओपी निर्धारित की है उन्हीं नियमों को यहां पर पूरी तरह से लागू किया जाएगा,ै। इसमें किसी तरह की कोताही ना बरतें यह हिदायत कर्मचारियों को दी गई है। यदि इसमें कोताही होती है तो संबंधित व्यक्ति के खिलाफ यहां अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।  कंट्रोलिंग अधिकारियों को कहा गया है कि वह ऐसे मामलों पर नजर रखें।

 

The post बिजली बोर्ड मुख्यालय में एंट्री बंद appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.