Friday, November 27, 2020 05:42 PM

ब्लड प्रेशर-मधुमेह पर आशा वर्कर्ज को किया जागरूक

स्वास्थ्य विभाग की ओर से गुरुवार को सीएमओ कार्यालय परिसर में विश्व पक्षाघात दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता सीएमओ चंबा डा. राजेश गुलेरी ने की। इस मौके पर जिला कार्यक्रम अधिकारी डा. जालम भारद्वाज, डा. करण हितैषी व स्वास्थ्य शिक्षिका निर्मला ठाकुर विशेष तौर से मौजूद रहीं। सीएमओ चंबा डा. राजेश गुलेरी ने उपस्थित स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं व आशा वर्कर्ज को संबोधित करते हुए कहा कि पक्षघात/लकवा दिमाग की कोशिकाओं के बीच सही ब्लड सर्कुलेशन न होने से रक्त वाहिकाओं में थक्का जमने या रक्त वाहिकाओं फटने के कारण होता है। पक्षाघात के मुख्य कारण हाई ब्लड प्रेशर, मधुमेह, दिल की बीमारी, मोटापा या शराब का तंबाकू का अत्याधिक सेवन है। इससे पौष्टिक आहार लेने के साथ नियमित व्यायाम से बचा जा सकता है।

उन्होंने स्वास्थ्य व आशा कार्यकर्ताओं से पक्षाघात के कारणों व बचाव को लेकर समाज में जागरूकता फैलाने को कहा, जिससे पक्षघात के बढ़ते मामलों को रोका जा सके। डा. करण हितैषी ने कहा कि पक्षघात के आरंभिक लक्ष्णों में चेहरे का एक तरफ  टेढ़ा होना, एक बांह या टांग में कमजोरी तथा बात करने में कमजोरी है। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति के बीच इन लक्ष्णों के दिखने पर एक घंटे के भीतर अस्पताल में पहुंचाना चाहिए, जिससे समय पर इलाज संभव हो सके। उन्होंने कहा कि चार घंटे के भीतर उपचार आरंभ होने से पक्षाघात को रोका जा सकता है। उन्होंने पक्षाघात से बचाव के बारे मं जानकारी देते हुए बताया कि हाई ब्लड प्रेशर व मधुमेह के रोगी नियमित उपचार के अलावा बीपी व शूगर को कंट्रोल करके तनाव से दूर रहें। कार्यक्रम में कार्यालय स्टाफ के अलावा आशा वर्कर्ज ने उपस्थिति दर्ज करवाई।

The post ब्लड प्रेशर-मधुमेह पर आशा वर्कर्ज को किया जागरूक appeared first on Divya Himachal.