Saturday, January 23, 2021 03:35 AM

ब्रेक मांगने से डरते हैं पाक प्लेयर्ज खिलाडि़यों-प्रबंधन में आपसी समझ बेहतर होना जरूरी

एजेंसियां— कराची

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने कहा है कि राष्ट्रीय टीम के खिलाड़ी थकान महसूस करने के बावजूद ब्रेक मांगने से डरते हैं, क्योंकि उन्हें डर है कि टीम प्रबंधन के साथ ‘संवादहीनता की स्थिति’ के कारण उन्हें टीम से बाहर किया जा सकता है। सीमित ओवरों के प्रारूप में अपने करियर को लंबा खींचने के लिए टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने वाले आमिर ने कहा कि खिलाडि़यों और प्रबंधन के बीच संवाद और आपसी समझ बेहतर करने की जरूरत है।

समस्या यह है कि अगर पाकिस्तान क्रिकेट में कोई खिलाड़ी यह कहने की हिम्मत करता है कि वह ब्रेक चाहता है, तो उसे बाहर कर दिया जाता है, इसलिए खिलाड़ी अब टीम प्रबंधन से इस बारे में बात करने से डरते हैं। उन्होंने कहा, पाकिस्तान क्रिकेट में ऐसी मानसिकता है, जहां खिलाड़ी टीम से बाहर होने से डरते हैं। मुझे लगता है कि खिलाडि़यों और टीम प्रबंधन के बीच संवादहीनता की इस स्थिति को खत्म किया जाना चाहि। अगर खिलाड़ी ब्रेक चाहता है तो उसे टीम प्रबंधन से बात करने में खुशी होनी चाहिए और उन्हें उसका नजरिया समझना चाहिए और टीम से बाहर करने की जगह उसे आराम देना चाहिए।

The post ब्रेक मांगने से डरते हैं पाक प्लेयर्ज खिलाडि़यों-प्रबंधन में आपसी समझ बेहतर होना जरूरी appeared first on Divya Himachal.